उमर अब्दुल्ला ने कहा-पिता फारूक समेत मेरे पूरे परिवार को नजरबंद किया गया

बीपी न्यूज़/श्रीनगर : पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती के बाद जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री व नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने भी रविवार को दावा किया है कि उन्हें और उनके परिवार को नजरबंद कर दिया गया है। उनके अनुसार फारूक अब्दुल्ला को भी नजरबंद कर दिया गया है। यह जानकारी उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर दी है।



उमर ने लिखा है कि अगस्त 2019 के बाद यह नया जम्मू-कश्मीर है। हमें बिना कुछ बताए हमारे घरों में बंद कर दिया गया है। मेरे पिता फारूक अब्दुल्ला को भी नजरबंद कर दिया है, जो सांसद भी हैं। उन्होंने मेरी बहन और उनके बच्चों को भी घरों में कैद कर रखा है।

उमर अब्दुल्ला ने कुछ तस्वीरें भी ट्वीट की हैं, जिसमें उनके आवास के बाहर पुलिस की गाड़ियां दिख रही हैं। उमर ने यह भी आरोप लगाया है कि उनके घर के नौकरों को भी अंदर नहीं आने दिया जा रहा है।

उन्होंने एक और ट्वीट में लिखा-चलो, आपके लोकतंत्र के नए मॉडल का मतलब है कि हमें बिना कुछ बताए हमारे घरों में कैद कर दिया जाए लेकिन हमारे घरों में काम करने वाले स्‍टाफ को भी अंदर आने की इजाजत नहीं दी जा रही। इसके बाद भी आपको हैरानी होती है कि मैं नाराज क्‍यों हूं और मेरे लहजे में कड़वाहट क्‍यों है।
उसके पूर्व शनिवार को पीडीपी अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भी दावा किया था कि उन्हें नजरबंद कर लिया गया है। उन्होंने कहा था कि अतहर मुश्ताक के परिवार से मिलने जाने से पहले उन्हें घर में बंद कर दिया गया। गौरतलब है कि कथित आतंकी अतहर को बीते साल सुरक्षाबलों ने एनकाउंटर में मार गिराया गया था।