त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए 25 अप्रैल को पोलिंग पार्टियां बूथों की ओर रवाना

बाराबंकी/शोभित शुक्ला : त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए 25 अप्रैल को पोलिंग पार्टियां बूथों की ओर रवाना होंगी। इससे पहले पोलिंग पार्टियों को चुनाव सामग्री के साथ मतपत्र आदि दैने की तैयारी चल रही है। जिले में इस बार 23 लाख 6 हजार 74 मतदाता मतदान में प्रतिभाग करेंगे। मतदान के लिए मतपत्र बाहर से मंगाए गए हैं लेकिन 2021 में हो रहे चुनाव के मतपत्रों पर 2020 छपा हुआ है।
जिले में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के तहत चार पदों के लिए 26 अप्रैल को मतदान का कार्य होगा। मतदान के लिए पोलिंग पार्टियां समस्त विकास खंडों के संबंधित रवानगी स्थल से रवाना होंगी। लेकिन अगर आप मतदान करने जा रहे हैं और आपको जो मतपत्र मिले उस पर पंचायत चुनाव 2020 लिखा मिले तो चौंके मत क्योंकि इस बार पोलिंग पार्टियों को जो मतपत्र दिए जाएंगे उन पर पंचायत चुनाव 2021 की बजाए 2020 लिखा हुआ है।


जो दर्शाता है कि सरकार पंचायत चुनाव को 2020 में ही कराने की पूरी तैयारी में थी लेकिन कोरोना के कारण यह चुनाव नहीं हो सके।

इन मतपत्रों की छपाई का कार्य पिछले वर्ष पूूरा होने के चलते इन मतपत्रों को फेंकना उचित नहीं था। इसलिए इन्हीं मतपत्रों पर चुनाव कराने का निर्णय लिया गया। यही कारण है कि चारों पदों के निर्वाचन के लिए जिले में पिछले माह 96 लाख 15 हजार 600 की संख्या में 2020 लिखे मतपत्र जिला प्रशासन को मिले थे। अब अगर 26 अप्रैल को मतदाताओं को 2020 लिखा मतपत्र मिले तो चौंकने की जरूरत नहीं है। इस संबंध में जब मतपत्र व्यवस्था के प्रभारी और बंदोबस्त अधिकारी चकबंदी अनिल कुमार पांडेय से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि चूंकि पंचायत चुनाव 2020 का हो रहा है इसलिए मतपत्रों में पिछला वर्ष दर्शाया गया होगा।

एकता सिंह, प्रभारी अधिकारी कार्मिक व सीडीओ ने बताया कि
जिला मुुख्यालय से सभी ब्लॉकों पर आरओ की मांग के अनुुसार मतपत्रों के पहुुंचाने का कार्य पूरा हो गया है। इसके बाद गुरुवार से इन मतपत्रों की छटनी का कार्य जिम्मेदार अधिकारियों की मौजूदगी में की जा रही है। इसके साथ चुुनाव सामग्री रखने के लिए बक्से भी तैयार किए जा रहे हैं। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के बीच यह महत्वपूर्ण कार्य 15 ब्लॉक मुख्यालयों पर चल रहा है। चारों पदों के मतपत्रों में वर्ष 2020 के छपा होने की जानकारी मुझे नहीं हैं। इस संबंध में संबंधित ब्लॉकों के आरओ से जानकारी की जाएगी।