कोविड-19 वैश्विक महामारी के नियंत्रण को चिकित्सकों को मानवीय आधार पर आगे आने की भाकपा माले विधायक की अपील

बेतिया/अवधेश कुमार शर्मा : पश्चिम चंपारण जिला के सिकटा विधायक व भाकपा माले केन्द्रीय कमिटी सदस्य वीरेन्द्र प्रसाद गुप्ता ने कोविड-19 महामारी की भयावहता को देखकर, इसके नियंत्रण को गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज के सभी डाक्टरों को मानवीय आधार व संवेदना पर कार्य करने की अपील किया है।गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज प्रशासन से भी अपील करते हुए श्री गुप्ता ने कहा कि सभी डाक्टरों को कोविड संक्रमित रोगियों के इलाज में लगाये, थोड़ी सी लापरवाही जिला के लाखों नागरिकों के जीवन को खतरे में दाल देगा।


गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज में आक्सीजन के उत्पादन का यूनिट लगाने की योजना का स्वागत करते हुए उन्होंने कहा कि यह आक्सीजन यूनिट सिर्फ कोविड संक्रमित रोगियों के लिए ही उपयोग में लाया जाएगा। इस पर चिंता व्यक्त करते हुए वीरेन्द्र प्रसाद गुप्ता ने कहा कि कोविड रोगियों से अलग विभिन्न जेनरल रोगियों को आक्सीजन की बहुत आवश्यकता होती है।

इसलिए जिला एवं अस्पताल प्रशासन से जेनरल रोगियों के आक्सीजन आपूर्ति की उपलब्धता सुनिश्चित कराने पर बल दिया। आक्सीजन के अभाव में किसी कि भी जानें नहीं जाये इसकी गारंटी करनी होगी। कोविड संक्रमित रोगियों कि मृत्यु के बाद अंतिम संस्कार के लिए परिवार को मात्र दो पीपी कीट ही उपलब्ध कराया जा रहा है, यह विचित्र स्थिति है।

किसी भी स्थिति में दो लोग शवों को अंतिम संस्कार नहीं कर सकते हैं। इसके लिए कम से कम सात लोगों की आवश्यक्ता होती है। इसलिए बिहार सरकार से भाकपा माले विधायक वीरेन्द्र प्रसाद गुप्ता ने कोविड-19 से मृत व्यक्ति के शवों के अंतिम संस्कार के लिए कम से कम 7 पीपी कीट की मांग किया है।