31.1 C
Delhi
Homeबेतियाकोविड-19 संक्रमण से बचाव को निर्धारित लक्ष्य पूर्ति को टीकाकरण एवं जांच...

कोविड-19 संक्रमण से बचाव को निर्धारित लक्ष्य पूर्ति को टीकाकरण एवं जांच सुनिश्चित करें : कुंदन कुमार

- Advertisement -spot_img

बेतिया/अवधेश कुमार शर्मा। पश्चिम चम्पारण जिला पदाधिकारी कुंदन कुमार ने कार्यालय प्रकोष्ठ में कोविड-19 संक्रमण से बचाव को टेस्टिंग, वैक्सीनेशन कार्य की समीक्षा किया। उन्होंने कहा कि देश में कोविड-19 संक्रमण का पुनः प्रसार हो रहा है। स्वास्थ्य विभाग के निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप टेस्टिंग और वैक्सीनेशन कार्य कराना सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा कि इस कार्य में लापरवाही, शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जायेगी। कोविड-19 संक्रमण से बचाव को सभी सुरक्षात्मक कार्रवाई का क्रियान्वयन तीव्र गति से करना सुनिश्चित करें। इस क्रम में सिविल सर्जन डॉ वीरें बता चौधरी ने बताया कि पश्चिम चम्पारण जिला में कोविड-19 का केवल एक सक्रिय (एक्टिव केस) मामला है।

विभागीय निर्देश के आलोक में टेस्टिंग और वैक्सीनेशन कार्य कराये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि कोविड-19 संक्रमण की जांच को एंटीजन एवं आरटीपीसीआर जांच करायी जा रही है। बेतिया, नरकटियागंज, रामनगर, बगहा रेलवे स्टेशनों पर जांच और वैक्सीनेशन की व्यवस्था की गयी है। इसके साथ ही सभी स्वास्थ्य संस्थानों में टेस्टिंग और वैक्सीनेशन की व्यवस्था निरंतर चल रही है। उन्होंने बताया कि 23 जुन 2022 को जिला के सभी प्रखंडों में कुल-3597 आरटीपीसीआर एवं एंटीजन जांच कराया गया है।

जिसमें नरकटियागंज में 166, बगहा-01 में 108, बगहा-02 में 109, गौनाहा में 276, बैरिया में 262, लौरिया में 208, चनपटिया में 215, मधुबनी में 125, मैनाटांड़ में 205, सिकटा में 347, मझौलिया में 245, नरकटियागंज में 397, रामनगर में 208, योगापट्टी में 190, ठकराहां में 102, भितहां में 99, पिपरासी में 165, एसडीएच बगहा में 154, जीएमसीएच, बेतिया में 16 जांच शामिल है। गुरुवार 23 जुन 22 की जांच में एक भी पोजेटिव के मामला नहीं मिला हैं। डीएम ने कहा कि पूर्व में जो स्थल हॉट स्पॉट के रूप में चिन्हित किये गये रहे, वहां विशेष ध्यान देते हुए कोविड-19 टेस्टिंग कराना सुनिश्चित करें।

भीड़ भाड़ वाले क्षेत्र जैसे-रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, सरकारी कार्यालय, सार्वजनिक स्थलों पर ज्यादा से ज्यादा लोगों की टेस्टिंग नियमित कराएं। उन्होंने कहा कि बाहर के राज्यों से रेल अथवा बस से आने वाले व्यक्तियों की जांच अनिवार्यतः कराएं। उन्होंने कहा कि कहा कि टेस्टिंग के साथ-साथ वैक्सीनेशन की गति को भी बढ़ाना होगा। अबतक जो लोग कोविड-19 वैक्सीन के फर्स्ट डोज, सेकेन्ड डोज तथा बूस्टर डोज से वंचित हैं, उनको चिन्हित करते हुए वैक्सीन दिलाना सुनिश्चित किया जाय। साथ ही कोविड-19 संक्रमण से बचाव अद्यतन विभागीय दिशा-निर्देशों का आमजन में व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार कराना सुनिश्चित किया जाय। इस अवसर पर अपर समाहर्ता अनिल राय, सिविल सर्जन डॉ वीरेन्द्र कुमार चौधरी, एसडीएमबी बेतिया विनोद कुमार व अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित रहे।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -