30.1 C
Delhi
Homeमुंबईफर्जी वैक्सीन लगवाने वालों का रद्द होगा सर्टिफिकेट

फर्जी वैक्सीन लगवाने वालों का रद्द होगा सर्टिफिकेट

- Advertisement -

सेंट्रल डेस्क : देश में कोरोना वैक्सीन को लेकर कई झूठी खबरे फैलाई जा रही है। मुंबई में भी वैक्सीन को लेकर ऐसी कई घटना सामने आई है। इसी के चलते सरकार ने अब केंद्र सरकार को पत्र लिखने का फैसला किया है। महाराष्ट्र सरकार का स्वास्थ्य विभाग केंद्र को पत्र लिखकर मांग करेगा कि मुंबई और ठाणे में फर्जी वैक्सीननेशन करवाए लोगों का कोविन सर्टिफिकेट रद्द किया जाए। जिन लोगों को फर्जी वैक्सीन लगी है ,तो उन्हें वापस बीएमसी कोरोना टीका लगवाएगी।

आपको बता दें कि अप्रैल और मई महीने में मुंबई और ठाणे में कुल 20 से अधिक जगहों पर फर्जी टीकाकरण केंद्रों का आयोजन हुआ था। इसमें करीब 3000 लोगों को वैक्सीन लगाए जाने की आशंका है। इस मामले में 11 एफआईआर दर्ज हुए है और 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। अभी भी कुछ और पुलिस स्टेशन में नई शिकायते सामने आ रही है।

बीएमसी ने तैयार किए नए नियम :

बीएमसी ने फर्जी टीकाकरण पर रोक लगाने के लिए कुछ खास नियमों को तैयार किया है। टीकाकरण अभियान प्राइवेट कोविड टीकाकरण केंद्र के माध्यम से ही चलाया जाएगा वही निजी कोविड टीकाकरण केंद्र को कोविन पोर्टल पर रेजिस्टर करना अनिवार्य होगा। इसके साथ ही समिति को सचिव को नोडल अधिकारी नियुक्त करना होगा।

निजी कोविड टीकाकरण केंद्र की वैक्सीन की कीमत, तारीख,जानकारी की जानकारी देना अनिवार्य होगा। यदि टीकाकरण के दौरान कुछ भी गलत होता है, तो स्वास्थ्य अधिकारी को इसकी सूचना तुरंत पुलिस को देनी होगी। नोडल अधिकारी को यह सुनिश्चित करना होगा कि टीकाकरण के बाद प्रमाण पत्र का लिंक सभी को उपलब्ध करवाये।

टीकाकरण से 3 दिन पहले मुंबई नगर निगम के संबंधित स्वास्थ्य अधिकारी और पुलिस स्टेशन को सूचित करना आवश्यक है यदि टीकाकरण के दौरान कोई समस्या पाई जाती है तो मुंबई नगर निगम के वॉर रूम को भी सूचित किया जाना चाहिए।

ये भी पढ़े….

- Advertisement -



- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -