36.1 C
Delhi
Homeमुरादाबादनौकरी लगवाने के नाम पर 15 लाख रुपये की धोखाधड़ी

नौकरी लगवाने के नाम पर 15 लाख रुपये की धोखाधड़ी

- Advertisement -spot_img

मुरादाबाद, बीपी टीम। रामपुर में धोखाधड़ी करने ‌के आरोप में सिविल लाइंस पुलिस ने तहरीर के आधार पर छह लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली हैं। पुलिस ने मामले की जांच शुरु कर दी है। सिविल लाइंस थाना क्षेत्र के परतापुर हरदासपुर गांव निवासी मिहीलाल ने पुलिस को तहरीर देकर आरोप लगाया है कि चार साल पहले उसकी जान पहचान देहारादून निवासी सुशील कुमार से हुई थीं।

इस दौरान उसने नई दिल्ली के सुल्तानपुर निवासी अश्वनी मेहता, मनोज कुमार, आरती देवी, मोनू कुमार और सुरेश कुमार से मिलवाया। इस बीच सभी ने रेलवे में नौकरी लगवाने की बात कही थी। जिसमें 15 लाख रुपये का खर्चा बताया था। इन लोगों की बात पर यकीन कर मिहीलाल ने सुशील, मोनू और आरती के खाते में 15 लाख रुपये ड़ाल दिए।

इस दौरान नौकरी लगवाने के लिए ‌कुछ दिन का समय दिया गया। आरोप है कि समय निकल जाने पर जब मिहीलाल ने नौकरी न लग पाने पर रुपये वापस मांगे तो इन लोगों ने देने से मना कर दिया। मामले की जानकारी होने पर उसके होश उड़ गए। बाद में उसने घटना की जानकारी सिविल लाइंस पुलिस को दी।

जिसके बाद पुलिस ने तहरीर के आधार पर सुशील कुमार, अश्वनी मेहता, मोनू कुमार, मनोज ‌कुमार, आरती देवी और सुरेश कुमार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली हैं। सिविल लाइंस थाना प्रभारी लव सिरोही ने बताया कि तहरीर के आधार पर छह लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरु कर दी है।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -