हाजीपुर में भीषण आग, मां-बेटे को जिंदा जलने से मौत, लाखों का सामान राख

हाजीपुर (सुनील कुमार ) : अतिव्यस्तम सिनेमा रोड में आज बुधवार को सुबह कपड़ा दुकान एवं मकान में शॉट सर्किट से आग लग जाने के कारण मां-बेटा जिंदा जल गए। दोनों को बचाने के प्रयास में लगे परिवार के आधा दर्जन से अधिक लोग गंभीर रूप से झुलस गए हैं। गंभीर रूप से झुलसे सभी लोगों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


घटना की सूचना पर पहुंची हाजीपुर, मुजफ्फरपुर, पटना एवं सारण की अग्निशमन दस्ते की 16 गाड़ियों ने लगभग तीन घंटे के बाद आग पर काबू पाया। बचाव कार्य में किसी तरह की व्यवधान उत्पन्न नहीं हो इसके लिए पटना से फायर ब्रिगेड की दस्ते में शामिल हाईड्रोलिक एवं मुजफ्फरपुर से वाउजर गाड़ी को भी मौके पर बुलाया गया था। बचाव कार्य फायर ब्रिगेड के डीएसपी मो. फैज आलम एवं सदर एसडीपीओ राघव दयाल के नेतृत्व में चलाया गया। मकान में आग एवं धुंआ की वजह से बचाव कार्य में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

एसडीआरएफ की टीम के जवानों ने ऑक्सीजन की मदद से घर के अंदर प्रवेश कर किसी तरह मां-बेटे को बाहर निकाला, लेकिन तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी। हाजीपुर शहर में सिनेमा रोड स्थित बंटी भाई कपड़ा वाला की दुकान के उपरी मंजिल स्थित एक शोरुम एवं गोदाम में शॉट सर्किट से सुबह 10.30 बजे के आसपास आग लई। आग देखते ही देखते विकराल रूप धारण कर लिया। दुकान के उपर मकान में जो भी लोग रहते थे, किसी तरह भाग कर अपनी जान बचाई। लेकिन एक महिला फंस गई जिसे निकालने गए उसके एक पुत्र झुलस गए। दूसरा पुत्र अपनी मां को बचाने गया लेकिन वह भी नही निकल पाया। घटना में मां-बेटे की आग में जिंदा जलने से मौत हो गई।

मां-बेटा को बचाने का कई लोगों ने प्रयास किया, लेकिन दोनों मकान के किस कमरे में थे पता नही चल सका। सूचना पर पहुंची फायर बिग्रेड की गाड़ी एवं एसडीआरएफ की टीम ने मां-बेटा को किसी तरह बाहर निकाला। लेकिन तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी। मृत महिला नंदकिशोर सिंह की पत्नी 50 वर्षीया सुनीता देवी तथा पुत्र 25 वर्षीय विकास कुमार बताया गया है। इस घटना में प्रकाश कुमार उर्फ बंटी, मिंटू कुमार, मयूर कुमार, सलमान एवं एक अन्य गंभीर रूप से झुलस गए हैं। घटना में तीन भाईयों नंदकिशोर सिंह, मोहन सिंह एवं जगदीश सिंह का घर तथा दुकान पूरी तरह जल गया है। जगदीश सिंह के पुत्र पवन कुमार की शादी 16 अप्रैल को होने वाली थी। घर में इसकी भी तैयारी चल रही थी। नगर थाना की पुलिस ने मां-बेटा के शव का सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम कराकर स्वजनों को सौंप दिया है।