5 सौ रुपए के लिए पिता को बेरहमी से पीटा, फिर सदर अस्पताल पहुंच बेटे को मारा चाकू

0
68

आरा(बिक्की सिंह): दूसरे का कर्ज देने के लिए स्वीकारना बाप बेटे को महंगा पड़ गया। सूदखोर ने पैसे की मांग की, जब कर्ज़ खोर की ओर से अभी पैसा देने से मजदूर ने इनकार किया तो उसके शरीर पर चाय वाले ने गर्म दूध फेक दिया। इसके बाद लाठी डंडे से बेरहमी से पिटाई की। इस मारपीट में आरोपी को भी चोट लगी। दोनों इलाज के लिए सदर अस्पताल पहुंचे।

अभी जख्मी हरेन्द्र प्रसाद को सदर अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा था। इसी दौरान आरोपी भी पहुंच गया और हरेन्द्रके साथ यहां भी झगड़ा करने लगा। जिसका विरोध हरेन्द्र के 22 वर्षीय बेटे विकास तथा दूसरा बेटा गोलू ने विरोध किया तो आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर विकास को गले एवं चेहरे के बीच में चाकू मारकर जख्मी कर दिया।सदर अस्पताल में जिससे अफरा तफरी का माहौल कायम हो गया । मिली जानकारी के अनुसार प्रकाश पुरी मोहल्ला निवासी हरेंद्र प्रसाद पिता स्वर्गीय शिवराती प्रसाद उनके दो पुत्र विकास कुमार तथा गोलू कुमार जख्मी हो गए।

घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि मुन्ना कुमार मैना सुंदर धर्मशाला में रहते हैं उन्होंने कुणाल से 10 हजार रुपए लिए थे। जिसके फल स्वरूप कुणाल तेरह हजार 500 रुपए मांग रहा था। हरेन्द्र ने बीच-बचाव कर कुछ पैसा अपने पास से दिया था तथा कुछ पैसा मुन्ना ने भी दे दिया था महज 5 सौ रूपया बाकि था।बुधवार की सुबह जब यह मजदूरी करने के लिए जा रहे थे तभी कुणाल अचानक रोक कर कहने लगा कि वह 500 कब दोगे। उसी को लेकर तू तू मैं मैं शुरू हुई और फिर बात इतनी बढ़ गई कुणाल कुमार ने हरेंद्र प्रसाद पर गर्म दूध फेंक दिया और फिर मारपीट शुरू हो गई ।जिससे हरेन्द्र कुमार का सर फट गया और गंभीर रूप से जख्मी हो गया।

जिन्हें इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया वहीं दूसरे पक्ष के कुणाल कुमार भी आया हुआ था। दोनों में इलाज के बाद फिर नोक झोक शुरू हो गई और देखते ही देखते कुणाल कुमार ने विकास कुमार को चाकू मार दी। चाकू उनके दाहिने गाल में आ लगी। जिससे वह गंभीर रूप से जख्मी हो गए जिनका इलाज आरा सदर अस्पताल में चल रहा है। वहीं इस घटना के बाद कुणाल फरार हो गया है।