13.1 C
Delhi
Homeबिहारबेगूसरायबेगूसराय : मीडिया में देशरत्न डॉ. राजेंद्र प्रसाद की जयंती पर एक...

बेगूसराय : मीडिया में देशरत्न डॉ. राजेंद्र प्रसाद की जयंती पर एक शब्द नहीं छपना दुर्भाग्यपूर्ण : जस्टिस अरूण कुमार

- Advertisement -

बेगूसराय/विनोद कर्ण :पटना हाईकोर्ट के जस्टिस व रेरा के राज्य अध्यक्ष अरूण कुमार ने कहा है कि देश के प्रथम राष्ट्रपति व संविधान सभा के अध्यक्ष देशरत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद के जयंती पर प्रमुख अखबारों में एक शब्द नहीं छपने को लेकर वे स्तब्ध रह गए। वे बेगूसराय शहर के होटल इतिहास में डॉ राजेंद्र प्रसाद की 137वीं पर आयोजित समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वे जब पटना से बेगूसराय के लिए रवाना हुए तो 4-5 प्रमुख अखबारों को खरीद कर गाड़ी में रख लिया।

रास्ते में पन्ना पलटकर देखा तो देशरत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद की आज जयंती है कि भी सूचना नहीं छपी थी। उन्होंने कहा कि राजेंद्र बाबू की प्रतिभा असाधारण व्यक्तित्व की पहचान देती। उन्होंने कलकत्ता से लेकर पटना तक वकालत किया। राष्ट्रपति बनने के बाद भी सादगी जीवन व्यतीत करने जैसे व्यवहार प्रेरणा लेने व अनुकरण करने की बात है। उनके बारे में अगर मीडिया जगत जगह नहीं दे तो नई पीढ़ी को कहां से संस्कार मिलेगा। उन्होंने कहा कि संविधान की ड्राफ्टिंग को लेकर डॉ भीमराव अम्बेडकर ने भी उनकी तारीफ की थी। कम समय में उनके जीवन पर प्रकाश डालना संभव नहीं है।

इस मौके पर पूर्व जिला एवं सत्र न्यायाधीश व रेरा सदस्य अरविंद माधव ने बतौर विशिष्ट अतिथि संबोधित करते हुए कहा कि राजेंद्र बाबू का संविधान निर्माण में अप्रीतम योगदान है। ऐसे महापुरुष विरले मिलते हैं। विधिक प्राधिकार के जिला सचिव न्यायाधीश अनवर समीम ने कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था को सुदृढ़ व्यवस्था देने में देशरत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद के असीम योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। उन्होंने कहा कि डॉ राजेंद्र प्रसाद का जीवन संन्यासी जैसा रहा। राष्ट्रपति बनने के बाद भी उनके जीवन शैली पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा। निवर्तमान मेयर उपेन्द्र प्रसाद सिंह ने राजेंद्र बाबू के विव्दतता पर प्रकाश डाला और उनके जन्म स्थान की उपेक्षा पर खेद जताया। कहा कि उनके जन्म स्थान को प्रमुख स्थल के रूप में विकसित किया जाना चाहिए।

इससे पूर्व प्रसिद्ध हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. नलिनी रंजन ने स्वागत भाषण करते हुए डॉ राजेंद्र प्रसाद के जीवन से जुड़े कुछ घटनाओं का जिक्र किया। कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। वहीं अतिथियों ने डॉ राजेंद्र प्रसाद के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित किया। मंच संचालन समाजसेवी दिलीप सिन्हा ने किया। इस मौके न्यायिक मजिस्ट्रेट अफजल आलम भी अतिथियों में शामिल थे। कार्यक्रम में अनिल पतंग, शिक्षक नेता डॉ सुरेश प्रसाद राय, आर्यभट्ट के निदेशक प्रो अशोक कुमार सिंह अमर, आईएमए के जिला सचिव रंजन कुमार चौधरी, डॉ एस पंडित, कौशल किशोर वर्मा, रविन्द्र मनोहर, प्रकाश सिन्हा, एनसीपी नेता जीतेंद्र कुमार सिंह, शिक्षक महेंद्र प्रसाद सिंह सहित कई बैंक अधिकारी, विभिन्न स्कूल कालेजों के छात्र छात्राएं उपस्थित थे। धन्यवाद ज्ञापन अधिवक्ता समीर शेखर ने किया। मौके पर अतिथियों को पुष्पगुच्छ भेंट कर सम्मानित किया गया।

यह भी पढ़े…

- Advertisement -






- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -