उत्कर्ष फाउंडेशन के आयोजन में पहुंचे DIG मनु महाराज, मेधा संतानों को किया सम्मानित

0
84

बेगूसराय/विनोद कर्ण: डीआईजी मनु महाराज ने कहा है कि बच्चों को उसके रूचि के अनुसार प्रतिभा का विकास होने देना चाहिए. अभिभावक के दबाव में कई बार बच्चे उचित स्थान नहीं पाते हैं. कैरियर बनाने का विविध क्षेत्र है, किसी भी क्षेत्र में अव्वल आने का महत्व होता है. वे शनिवार को उत्कर्ष फाउंडेशन द्वारा संतजोसेफ स्कूल में आयोजित मेधा सम्मान के तहत सरकारी विद्यालय के 20 बच्चोंं प्रमाण पत्र, 5-5 हजार रुपये का चेक व डिस्कनरी प्रदान कर सम्मानित कर रहे थे.

उन्होंने कहा कि शिक्षक बच्चों को प्रतियोगी भावना पैदा करे. उनके रूचि के हिसाब से कैरियर बनाने में सहयोगी बनें.इस मौके पर एएसपी मनोज तिवारी, आईपीएस अधिकारी मिथिलेश कुमार, एएसपी (अभियान) अमृतेश कुमार एवं एसडीओ संजीव कुमार चौधरी ने भी पुरस्कार वितरण किया.

मौके पर जिले के गणमान्य लोग में चमथा के प्राचार्य प्रो. अशोक कुमार सिंह अमर, सेंट जोसेफ के निदेशक अभिषेक कुमार, बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के संयुक्त सचिव डा. सुरेश प्रसाद राय, विकास विद्यालय के निदेशक राजकिशोर सिंह, अनुपमा कुमारी, वरिष्ठ अधिवक्ता शाह इजुुउर रहमान, लायस क्लब के कमल कुुुमार, पूर्व मेयर संजय कुमार, कवि सच्चिदानंद पाठक, समाजसेवी रजनीकांत पाठक, समाजसेवी दिलीप सिन्हा, कवि प्रफुल्ल कुमार मिश्रा, सिने अभिनेता अमिय कश्यप, अजीत गौतम, नवल किशोर झा, अधिवक्ता अमरेंद्र कुमार अमर, विश्व रंजन सिंह राजू और उत्कर्ष फाउंडेशन के सभी सदस्य मौजूद थे.

बताते चलें कि वर्तमान डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय की पहल पर उत्कर्ष फाउंडेशन का गठन किया गया है. जो प्रतिवर्ष प्रतिभा सम्मान आयोजित कर सरकारी स्कूलों के बच्चों को प्रोत्साहित करेंगे. डीजीपी पांडेय के पटना में एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम में शामिल होने के अनिवार्यता के कारण यहां नहीं पहुंच पाये. उन्होंने बतौर अपने प्रतिनिधि के तौर पर डीआईजी मनु महाराज को यहां भेजा था.