बदले की भावना से नहीं बदलाव की भावना से काम करते थे सजग सिंह : निशांत सिंह

बेगूसराय/विनोद कर्ण: सड़क दुघर्टना में हाल ही में चल बसे एआईएफएफ के नेता सजग सिंह छात्रों के बीच इतने लोकप्रिय हो गए थे कि भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) के द्वारा मंगलवार को क्रांतिकारी छात्र नेता सजग जी का श्रद्धांजलि सभा जीडी कॉलेज परिसर में मनाया गया। इस मौके पर 2 मिनट का मौन धारण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। सभा को संबोधित करते हुए महाविद्यालय के प्रोफेसर कमलेश प्रसाद सिंह ने कहा कि सजग एक छात्र नेता के साथ-साथ सामाजिक योद्धा भी थे।

इनका असमय जाना हम सबो की क्षति है। एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक निशांत सिंह ने कहा कि सजग का व्यक्तित्व छात्रों और आमलोगों को आकर्षित करता था। एक छात्र नेता के रूप में भी सजग थे काफी कम समय में उन्होंने छात्रहित में आंदोलन कर अलग पहचान बनाई थी लेकिन नियति का नियत की इच्छा कुछ और थी। उनके असमय जाने से बेगूसराय जिले ने एक ईमानदार और नेक दिल इंसान खो दिया।

यह बदले की भावना से नहीं बदलाव की भावना से काम करते थे। इस तरह से छोड़ जाना अत्यंत पीड़ा दायक है।मौके पर युवा छात्र नेता अभिषेक झा , पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष प्रिंस कुमार, राजेश कुमार, फैयाज रजवी, मुरारी, पवन, आदर्श, राहुल, विवेक, कुंदन, राजा कमरान, संटू, गौतम, अमित, शंभू, प्रभात कुमार एवं दर्जनों छात्र उपस्थित थे।