बस स्टैंड पहुंची पुलिस तो भागने लगे अपराधी, खदेड़कर दबोचे गए तीन,

0
340

बेगूसराय विनोद कर्ण : बुधवार की संध्या गश्ती में निकली पुलिस को जानकारी मिली कि मंझौल बस स्टैंड में जमा होकर कुछ अपराधी बड़ी घटना को अंजाम देने के फिराक में हैं. इस जानकारी के प्राप्त होते ही SP अवकाश कुमार ने डीएसपी मंझौल के नेतृत्व में टीम गठित करते हुए छापेमारी का निर्देश दिया. इसके बाद की गई कार्रवाई में पुलिस को बड़़ी सफलता हाथ लगी है.अपने कार्यालय कक्ष में गुरुवार को SP अवकाश कुमार ने पत्रकारों को बताया कि

उनके निर्देश पर गठित टीम ने डीएसपी मंझौल के नेतृत्व में शामिल ओपी अध्यक्ष राज कुमार, सअनि नवीन सिंह व निर्मल सिंह, हवलदार संजय कुमार सिंह, सिपाही देवेंद्र पासवान, राघवेंद्र कुमार सिंह एवं नीरज कुमार ने मंझौल बस स्टैंड में छापेमारी करने पहुंचे. पुलिस को देखते ही अपराधी बाइक पर सवार होकर भागने लगे. पुलिस ने चेरियाबरियारपुर की ओर भाग रहे 3 अपराधियों को पुस्तकालय चौक पर दबोच लिया. 

पकड़े गए अपराधियों की पहचान झारखंड राज्य के धनबाद जिला के चिरकुंडा थाना के कुमार डोभी नेपाली लाइन निवासी रंजीत पांडेय के पुत्र जितेंद्र पांडेय (22), जिले के रिफाइनरी थाना क्षेत्र के केसाबे निवासी गुलाम कुमार उर्फ गोलू (22) पे. सुलेंद्र पासवान तथा चेरिया बरियारपुर थाना के विक्रमपुर अंबेडकर नगर निवासी पुचो पासवान के पुत्र गौरी पासवान (35) शामिल हैं. इन अपराधियों के पास से एक ऑटोमेटिक पिस्टल, 9mm का दो जिंदा कारतूस, एक देसी कट्टा, .303 का एक जिंदा लोडेड गोली, .303 का एक जिंदा गोली तथा काला रंग का एक प्लसर मोटर साइकिल BR 9x 8924 बरामद किया गया है. सभी को जेल भेजा जा रहा है.