बिहार में बिजली की दरों में कोई बढ़ोतरी नहीं, उपभोक्ताओं को राहत

0
356

पटना : विद्युत् नियामक आयोग ने उपभक्ताओं को राहत देते हुए बिजली की दरों में कोई बढ़ोतरी न करने का फैसला लिया है. वर्ष 2018-19 की पुराणी दरों पर ही उपभोक्ताओं से बिजली बिल लिया जाएगा. इस संबंध में बिहार विद्युत् नियामक आयोग के अध्यक्ष एसके नेगी ने प्रेस कांफ्रेंस करके जानकारी दी. उनका कहना है कि जिस दर से अभी वसूली की जा रही है उसी दर से होती रहेगी.

यही नहीं वर्ष 2019-20 में भी पुराने दर से ही बिजली बिल लिया जाएगा. श्री नेगी ने बताया फ़िलहाल शहरी क्षेत्र में 1 करोड़ 51 हजार 393 उपभोक्ता हैं. राज्य के आम उपभोक्ताओं के लिए बिजली की नयी दरों को लेकर नॉर्थ व साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनियों के आवेदन पर बिहार विद्युत विनियामक आयोग अपना निर्णय सुनाया.

बता दें कि बिजली कंपनियों ने पांच से दस फीसदी बिजली दर बढ़ाने के लिए बिहार विद्युत विनियामक आयोग को 30 नवंबर, 2018 को प्रस्ताव दिया था. इसे लेकर आयोग ने प्रदेश के पांच प्रमंडलों में 24 जनवरी से पांच फरवरी तक अलग-अलग छह बैठकों में जनसुनवाई की.

वहीं बिहार विद्युत विनियामक आयोग ने 15 फरवरी को राज्य की तीन बिजली ट्रांसमिशन कंपनियों के आवेदनों पर निर्णय सुनाते हुए बढ़े खर्च की स्वीकृति दी. इस संबंध में बिहार स्टेट पावर ट्रांसमिशन कंपनी लिमिटेड, बिहार ग्रिड कंपनी लिमिटेड और स्टेट लोड डिस्पैच सेंटर ने खर्च स्वीकृत करने के लिए आवेदन दिया था.