कोरोना से मृत्यु पर सरकारी कर्मचारियों के आश्रित को नौकरी और पारिवारिक पेंशन देने वाला बिहार पहला राज्य, संकट के समय मनोबल बढ़ाने वाला फैसला :सुशील कुमार मोदी

स्टेट डेस्क/पटना : पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा है कि बिहार पहला राज्य है, जिसने 2020 में कोरोना संक्रमण के समय स्वास्थ्यकर्मियों को एक माह का अतिरिक्त वेतन दिया और सेवा के दौरान कोरोना संक्रमण से मृत्यु होने पर पारिवारिक पेंशन देने की घोषणा की थी। अब कोरोना से मृत्यु पर सभी सरकारी कर्मचारियों को पारिवारिक पेंशन और एक आश्रित को नौकरी देने का फैसला कर सरकार ने लाखों कर्मचारियों को बड़ा मानसिक संबल प्रदान किया है।


इससे कोरोना को हराने के सरकार के अभियान को ताकत मिलेगी। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि बिहार के 8 करोड़ 70 लाख गरीबों को सरकार ने पांच किलो अनाज मुफ्त देने के लिए 8.70 लाख टन अनाज का आवंटन किया। इस फैसले से गरीबों को मई और जून माह में 2 किलो गेहूँ और 3 किलो चावल मुफ्त मिलेगा। यह हर माह मिलने वाले अनाज के अतिरिक्त होगा। कोरोना संक्रमण के चलते रोजगार पाने में कठिनाई का सामना करने वाले दैनिक मजदूरों को इससे राहत मिलेगी।