भावना : जीमी के लापता होने से उसके स्वामी का हाल-बेहाल

बक्सर/विक्रांत : चौकिए मत! आप मानें अथवा नहीं मानें। पर कटु सत्य है।अपने संतान से बढ़कर भी जानवर का पालन व पोषण करने वाले इंसान है। पालतू जानवर जीमी(डौगी) के गुम हो जाने के बाद उसके स्वामी जयप्रकाश गुप्ता का हाल बेहाल है।

हुआं यूं कि गत 23 दिसम्बर की शाम जीमी को साथ लेकर स्वामी का एक दोस्त श्याम शाम के समय सैर कराने को ले गया था। इसी बीच जीमी का डोर श्याम के हाथ से छूट गया। पल भर में जीमी रास्ता भटक गई। काफी खोजबीन के बाद भी जीमी का अता पता नहीं है।

तीन दिनों के बाद भी जीमी(डौगी) का अता पता नहीं चल पाने पर स्वामी जेपी चाट वाले स्टेशन रोड निवासी जयप्रकाश गुप्ता ने स्थानीय मिडीया कर्मियों से अपना दर्द बयां करते हुए सहयोग की अपील की। हाॅलाकि जयप्रकाश ने जीमी के गुम होने के बावत यत्र-तत्र सूचना लगा रखी है।

उदास मन से जयप्रकाश गुप्ता ने बताया कि जीमी को खोजकर हवाला करने वाले को पुरस्कृत करने को तैयार है।आगे नम आंखो से जयप्रकाश ने बताया कि करीब तीन साल से जीमी का परवरिश अपने संतान की भांति किया है।