डुमरांव : पांच जनवरी अपशकुन बना व अब तक तीन राजनीतिक हस्तियों को दुनिया से अलविदा कर दिया

0
107

-पांच जनवरी ने सबसे पहले पूर्व मंत्री तो दुसरा देश के प्रथम सांसद एवं तीसरा पूर्व विधायक को हमेशा के लिए नागरिको से दूर कर दिया। चौथा 6 जनवरी भी अपशकुन देने से बाज नहीं आ सका।

बक्सर,बिफोर प्रींट। तारीख पांच जनवरी पर मानों अशुभ ग्रहों की काली छाया पड़ गई है। डुमरांव के लिए पांच जनवरी अपशकुन सा बन गया है। गत चार साल के अंदर पांच जनवरी ने डुमरांव क्षेत्र के तीन राजनीतिक दिग्गजो को हमेशा के लिए नागरिकों से दूर कर दिया। पांच जनवरी की तारीख डुमरांव के लिए अशुभ कहा जाए तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी। वही छःजनवरी ने भी कोई कसर नहीं छोड़ा। सबसे पहले डुमरांव विधान सभा क्षेत्र से तीन बार विधायक चुने गए व बिहार सरकार में भवन निर्माण मंत्री रह चुके बसंत सिंह का निधन गत पांच जनवरी, 2019 को पटना में हुई।

पूर्व मंत्री स्व.श्री सिंह स्थानीय विधान सभा क्षेत्र के चैंगाई गांव के मूल निवासी थे।स्व.श्री सिंह को डुमरांव विधान सभा क्षेत्र से तीन बार जनप्रतिनिधित्व करने का मौका मिला था। ठीक एक साल के बाद गत पांच जनवरी 2020 को लोक सभा के प्रथम सांसद व डुमरांव के पूर्व महाराज कमल सिंह का नई दिल्ली में ईलाज के दौरान गत पांच जनवरी 2020 को निधन हो गई। डुमरांव के पूर्व महाराज कमल सिंह क्षेत्र से दो बार सांसद चुने गए थे। बाद के दिनों में जनप्रतिनिधि नहीं रहने के बावजूद डुमरांव के पूर्व महाराज का यहां के नागरिको से लगाव व जुड़ाव हमेशा बना हुआ था।

इसी क्रम तीसरा राजनीतिक दिग्गज पूर्व विधायक डा.दाउद अली का ठीक दो साल के बाद वर्ष 2022 के गत पांच जनवरी को निधन हो गई। डुमरांव विधान सभा का जनप्रतिनिधित्व कर चुके व पेशे से होमियोपैथिक चिकित्सक डा.दाउद अली को पांच जनवरी ने अपशकुन बन नागरिको के बीच से छीन लिया। पूर्व विधायक सह बिहार राज्य होमियोपैथिक चिकित्सक संघ के अध्यक्ष डा.दाउद अली का निधन वर्ष 2022 के पांच जनवरी को मंुबई के एक अस्पताल में ईलाज के दौरान हो गई।

मरहूम डा.दाउद अली वर्ष 2010 में डुमरांव विधान सभा क्षेत्र से विधायक चुने गए थे। उन्होनें अपने कार्यकाल के दौरान कई जनसरोकार से जुड़ी समस्या का निदान व क्षेत्र के विकास कार्य को अंजाम देने का काम किया था। इसी बीच वर्ष 2022 का 6 जनवरी भी एक अपशकुन दे गई। पुराना भोजपुर के निवासी व ब्रम्हपुर विधान सभा क्षेत्र से सपा व भीआईपी के टिकट पर चुनाव लड़ चुके जयराज चैधरी का 6 जनवरी को निधन हो गई।