बक्सरः ‘शिक्षा और शिक्षको की समस्याओं में जनप्रतिनिधियों की भूमिका‘ पर गोष्ठी

बक्सर/विक्रांत: डुमरांव स्थित नगर भवन में प्राथमिक शिक्षक संघ की बक्सर जिला इकाई के बैनर तले ‘शिक्षा और शिक्षको की समस्याओं में जनप्रतिनिधियों की भूमिका‘ बिषय पर एक बिचार गोष्ठी का आयोजन किया गया।गोष्ठी को मुख्य वक्ता के रूप में विधायक डा.अजीत कुमार सिंह, मुख्य अतिथि के रूप में राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेश महासचिव नागेन्द्र प्रसाद सिंह के आलावे मो.यासिन,महेन्द्र प्रसाद,ओमनारायण ओझा,अनिता यादव, प्रमोद कुमार सिंह,मो.मुस्ताक,रविरंजन कुमार, प्रमोद यादव,दिनेश कुमार,बीरेन्द्र कुमार सिंह एवं संजय कुमार आदि ने संबोधित किया।




वक्ताओे ने कहा कि सार्वजनिक शिक्षा चैपट हो चुकी है।शिक्षण संस्थान के तीन स्तंभ में शिक्षक, छात्र एवं अभिभावक शामिल है।वक्ताओें ने कहा कि पंचायती राज व्यवस्था लागू होने के बाद सरकारी विद्यालयों की शिक्षा व्यवस्था चैपट हो गई है।पहले विद्यालय की व्यवस्था में सुधार को लेकर अनुश्रवण होता था। पर अब तो निरीक्षण करने की संस्कृति ने जोर पकड़ लिया है।निरीक्षण से शिक्षको की अनावश्यक परेशानी बढ़ जाती है।वक्ताओें ने कहा कि शिक्षा विभाग शिक्षको का वेतन समय पर भुगतान नहीं कर पाता है। अलबता शिक्षको से हर तरह का काम लिया जाता है।नतीजतन शिक्षक काम के बोझ से दबा महसूस करने लगते है।


वक्ताओें ने जनप्रतिनिधियों से सार्वजनिक शिक्षा व्यवस्था को दुरूस्त करने की दिशा में अगुवाई करने की अपील की।वक्ताओें ने जनप्रतिनिधियों से विद्यालय की शिक्षा व्यवस्था के आलावे शिक्षको की समस्याओं के निदान की दिशा में सहयोग करने की अपील की। गोष्ठी की अध्यक्षता प्राथमिक शिक्षक संघ गोप गुट के जिलाध्यक्ष डा.सुरेन्द्र प्रसाद सिंह ने की।संचालन अभय कुमार पाण्डेय ने किया।


इसके पहले डुमरांव के विधायक डा.अजीत कुमार सिंह को प्राथमिक शिक्षक संघ की जिला इकाई द्वारा सम्मानित किया गया।मौके पर प्राथमिक शिक्षक संघ (गोपगुट) के जिलाध्यक्ष ने विधायक को अंगबस्त्र भेंट सहित पुष्पगुच्छा प्रदान किया।