चंपारण: राजस्व शिविर के माध्यम से जिले के भूमिहीन रैयतों के बीच 1027 बंदोबस्ती पर्चा का वितरित

बेतिया/ अवधेश कुमार शर्मा : पश्चिम चम्पारण जिले के सभी प्रखंड परिसर में शुक्रवार को राजस्व शिविर का आयोजन हुआ। राजस्व शिविर में भूमिहीन रैयतों के बीच अभियान बसेरा के तहत कुल-1027 बंदोबस्ती पर्चा का वितरण किए। रैयतों के बीच कुल 33 एकड़ 65 डिसमिल भूमि का उपलब्ध कराए गए। इस क्रम में डीएम ने जिला के अंतिम छोर पर स्थित पिपरासी प्रखंड परिसर में सेमरा, लबेदाहा एवं डुमरी पंचायतों के भूमिहीन रैयतों के बीच कुल-141बंदोबस्ती पर्चा का वितरण किया । इस अवसर पर अपर समाहर्त्ता, डीआरडीए निदेशक, बगहा अनुमंडल पदाधिकारी, भूमि सुधार उप समाहर्त्ता बगहा, बीडीओ, सीओ सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।



बंदोबस्ती पर्चा प्राप्त करने वालों में जरीना देवी, मुन्नी खातून, राधिका देवी, मीना देवी, गीता देवी, रामचंद्र राम, चम्पा देवी, सोना देवी, दरोगा राम, मुन्ना गोड़, विनोद गोड़, रमेश बिन रैयतों के नाम शामिल हैं। राजस्व शिविर में डीएम कुंदन कुमार ने कहा कि यह दिन ऐतिहासिक है। इस सुदूरवर्ती इलाके में बंदोबस्ती पर्चा का वितरण किया जा रहा है। लोगों को घबराने की आवश्यकता नहीं है। सुदूरवर्ती समाज के अंतिम व्यक्ति तक सरकार की विभिन्न विकासात्मक एवं कल्याणकारी योजनाओं को पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन संकल्पित है। सभी योग्य व्यक्तियों को विभिन्न लाभकारी एवं कल्याणकारी योजनाओं से आच्छादित किया जाएगा।

कहा कि पश्चिम चम्पारण जिला को विकास के पथ पर तीव्र गति से ले जाने को समन्वित प्रयास करना होगा। इस कार्य में आम जनमानस का सहयोग भी अपेक्षित है। अपर समाहर्त्ता नंद किशोर साह ने कहा कि जिला पदाधिकारी के निर्देश के आलोक में जिले में भूमिहीन रैयतों के बीच बंदोबस्ती पर्चा का वितरण कराया जा रहा है। जिला के अन्य भूमिहीन रैयतों के बीच भी बंदोबस्ती पर्चा का वितरण कराया जाएगा। इसके लिए प्रत्येक माह में सभी प्रखंड परिसरों में विशेष राजस्व शिविर का आयोजन किया जाएगा। कहा कि दी जाने वाली भूमि की जमाबंदी करा दी गयी है। सभी रैयत अविलंब लगान की रसीद कटा लेंगे। इस संदर्भ में किसी भी रैयत को कोई परेशानी हो तो तुरंत संबंधित कार्यालय में संपर्क करेंगे।