डीएम ने बथनाहा में चमड़े निर्मित वस्तुओं के क्लस्टर शुरू करने वाले प्रवासी श्रमिक भाइयों से की मुलाकात

सीतामढी़/रविशंकर सिंह: कोरोनाकाल में विभिन्न राज्यो से लौटे कुशल श्रमिको को अपने ही राज्य और जिले में रोजगार उपलब्ध करवाने को लेकर सरकार के दिशा निर्देश में किये गए प्रयास का सकरात्मक परिणाम दिखाई पड़ने लगा है। जिला नवप्रवर्तन क्लस्टर योजना के तहत पाँच चयनित क्लस्टर में से चार क्लस्टर कार्य शुरू हो चुका है। इससे जिले के कई श्रमिक को प्रत्यक्ष रूप से रोजगार से जोड़ा गया है,साथ ही अप्रत्यक्ष रूप से भी कई लोग लाभान्वित होंगे। इस योजना के तहत चमड़े के सामान जूते, चप्पल, बेल्ट, एवम रेडीमेट क्लस्टर शुरू किए गए है।



कुशल एवम हुनरमंद प्रवासी श्रमिक को अपने जिले में रोजगार से जोड़ कर आत्म निर्भर बिहार बनाने की दिशा शुरू किए गए प्रयास का सकरात्मक परिणाम दृष्टिगोचर होने लगा है। आधुनिक मशीन से स्वयं अपने हाथों से ही स्थानीय उत्पाद बनाकर उनकी खुशी उनके चेहरे पर साफ दिखाई दे रही है।डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा द्वारा आज समाहरणालय स्थित अपने कार्यालय कक्ष में बथनाहा प्रखंड के डायन छपरा में चल रहे चर्म उद्योग से संबंधित क्लस्टर में कार्य कर रहे प्रवासी श्रमिको से मुलाकर कर उनके उत्पाद की गुणवत्ता एवम बाजार की उपलब्धता आदि के संबध में व्यापक विचार विमर्श किया । उन्होंने उन्हें प्रोत्साहित करते हुए कहा कि उन्हें आगे भी हर संभव सहायता प्रदान की जाएगी।

उनके द्वारा निर्मित जूते,चप्पल,पर्स, बेल्ट आदि सामग्रियों का भी जिलाधिकारी ने अवलोकन किया। उक्त कलस्टर से जुड़े प्रवासी श्रमिक भाई अवधेश राम, छोटेलाल राम आदि से मिलकर उनके कार्यों की जिलाधिकारी ने जमकर तारीफ भी किया। उन्होंने उनसे जरदोजी पंजाबी जुती बनाने की सलाह भी दिया, ताकि ग्राहक को अच्छी गुणवत्ता वाली नई उत्पाद मिल सके। जिलाधिकारी द्वारा उपस्थित डीडीसी को भी प्रवासी श्रमिक भाइयों को हर संभव सभी प्रकार की सुविधा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया।

गौरतलब हो कि जिलाधिकारी के निर्देशन में बाहर से आये श्रमिक के दक्षता के आधार पर उनकी सूची भी बनाई गई थी,ताकि उनकी कार्य दक्षता के आलोक में उन्हें स्वरोजगार या रोजगार से जोड़ने हेतू कार्य किया जा सके। उसी सूची के आलोक में इच्छुक श्रमिक भाइयों को अपने ही घर मे रोजगार उपलब्ध कराने को लेकर जिला प्रशासन के प्रयास का सकरात्मक प्रभाव अब दिखने लगा है।