फगुआ का आगाज : बक्सर विधायक मुन्ना तिवारी ने किया उद्घाटन, भरत शर्मा, गोपाल राय जैसे कलाकारों ने बांधा समा

0
298

उदिप्त, बक्सर : बसंत पंचमी के दिन से ही फगुआ की शुरूवात हो जाती है। फगुआ यानी होली। मौसम के साथ-साथ लोगों का मिजाज भी मस्त रहता है। भोजपुर क्षेत्र में होली को लेकर खासा उमंग रहता है। पर इस बार चूंकि 14 फरवरी को पुलवामा के हमले के बाद देश में एक गम का माहौल था इसलिए उत्साह में थोड़ी कमी हो गयी थी। परसों जब एयरफोर्स ने पाकिस्तान पर पलटवार कर अपना बदला ले लिया उसके बाद देश में एक खुशी का लहर दौड़ गई।

उसी को लेकर बक्सर जिले के सिमहरी प्रखंड के नगपुरा गांव में एक भव्य समारोह आयोजित किया गया। बता दें कि यह नगपपुरा भोजपुरी सम्राट भरत शर्मा व्यास का पैतृक गांव है। आयोजन के मुख्य अतिथि के रूप में बक्सर विधानसभा के विधायक मुन्ना तिवारी थे।

मुन्ना तिवारी ने रिबन काट कर कार्यक्रम की शुरुआत की। उन्होंने अश्लीलता पर बरसते हुए कहा कि आज भी अगर भोजपुरी लोक संगीत को किसी ने जिंदा रखा है तो वो भरत शर्मा ही हैं.

कार्यक्रम की शुरुआत बनारस की लोक गायिका अर्चना तिवारी ने किया। उनके बाद भोजपुरी जगत के सुप्रसिद्ध गायक गोपाल राय ने जम कर फगुआ गाया, जिसपर बक्सर की नृत्यांगना हिना जमकर थिरकीं। गोपाल राय ने अपने अंतिम गीत पुलवामा में शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि दिया।

भरत शर्मा व्यास ने अपने गीत की शुरूवात ही हमारे वीर सैनिकों के पराक्रम की वीर गाथा गा कर की। बाद में फिर उन्होंने भोजपुरी के पारम्परिक होली गीत जैसे ‘बंगला में उड़े ला अबीर’ और ‘बाबा विश्वनाथ, फागुन में खेले अबीर’ जैसे गीत गाकर सभी को झूमा दिया।

कार्यक्रम में अन्य अतिथि के रूप में बक्सर के समाजसेवी मुरली सिंह, आरा के बृजेश सिंह और बक्सर भाजपा किसान प्रकोष्ठ के अध्यक्ष सुशील राय भी मौजूद थे। कार्यक्रम में शामिल अन्य लोगों में अरुण यादव, अमरेन्द्र यादव, रिंटू यादव और कामेश्वर चौबे भी मौजूद थे