35.1 C
Delhi
Homeबिहारगयागया: लाखों लोगों के जीवन मे रोशनी देने वाले डॉ० नवनीत भाई...

गया: लाखों लोगों के जीवन मे रोशनी देने वाले डॉ० नवनीत भाई पटेल नही रहे

- Advertisement -spot_img

गया/बोधगया(पुरुषोत्तम कुमार): बोधगया में भंसाली ट्रस्ट द्वारा संचालित निःशुल्क नेत्र चिकित्सा शिविर में मातम का माहौल छाया हुआ है। सीनियर आई सर्जन डॉ. नवनीत भाई पटेल की हृदय गति रुकने से निधन हो गयी। वे 63वर्ष के थे। बता दे कि बोधगया में प्रति वर्ष भंसाली ट्रस्ट द्वारा निःशुल्क नेत्र चिकित्सा शिविर लगाया जाता है जहां हजारों के आंखों का निःशुल्क इलाज किया है। 17 फरवरी से 9 मार्च तक 36वां शिविर लगाया गया है।

इसी शिविर में इलाज करने के लिए डॉ. नवनीत भाई पटेल आज भुवनेश्वर राजधानी से सुबह 6 बजे गया जंक्शन पहुँचे और प्लेटफॉर्म पर अचानक गिर पड़े। वहीं मौजूद उन्हें रिसीव करने पहुचे भंसाली ट्रस्ट के सदस्य और जी आर पी के जवानों ने उन्हें उठाया और बेहतर इलाज के लिए गया के निजी अस्पताल ले गये, जहा डॉक्टरों ने मृत बताया। यह शिविर 1984 से प्रत्येक वर्ष बोधगया में लगाया जा रहा है, जिसमे करीब 7.5 लाख मरीजों का इलाज किया जा चुका है। डॉ. नवनीत भाई पटेल उनमे से एक हैं जो लाख से अधिक मरीजों के आँखों का ऑपरेशन खुद अपने हाथों से किये थे।

वे 36 वर्षो से लगातार प्रत्येक वर्ष इलाज करने आते थे। शिविर के प्रबंधक तने सिंह ने बताया कि डॉ नवनीत भाई पटेल सबके आइडियल थे. प्रबंधक ने बताया कि ट्रेन से उतरने से थोड़ी देर पहले ही उन से फ़ोन पर बात हुई थी। डॉ. नवनीत भाई पटेल गुजरात के अहमदाबाद के रहने वाले थे। उनके पार्थिव शरीर को शाम में उनके परिजनों तक ले जाया जाएगा।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -