बिना निबंधन के ई- रिक्शा की संख्या बढ़ने से नियंत्रित करना मुश्किल कार्य है: डीटीओ:

0
229

-गया/बोधगया(पुरुषोत्तम कुमार)– ऑथराइज एजेंसी से ही ई रिक्शा का खरीदारी करें। ई-रिक्शा का निबंधन करवाना अति आवश्यक है क्योकि बिना निबंधन के ई-रिक्शा की संख्या बढ़ने से उसे नियंत्रित करना काफी मुश्किल कार्य है। इसके अलावा जो भी पुरानी ई-रिक्शा है, उन्हें निबंधन करवाना आवश्यक है। उक्त बातें सोमवार को बोधगया थाना परिसर में ई-रिक्शा चालको के साथ कि गयी बैठक में गया डीटीओ जनार्दन कुमार ने बताया है की श्री कुमार ने कहा कि गया जिले में कुल 18 ई-रिक्शा  एजेंसियों को लाइसेंस को निर्गत किया गया है जो निबंधित ई रिक्शा को बेच सके बाकी जो भी अवैध तरीके से ई रिक्शा एजेंसी चला रहे हैं, उन एजेंसियों पर जल्द कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा उनके द्वारा बिना निबंधन के ई-रिक्शा चलाने पर प्रतिबंध लगाया गया है। उन्होंने बताया कि पूर्व में जो लोग ई रिक्शा खरीदा है जिसके रिक्शा में किसी तरह का नंबर नही है उसकी सूची तैयार कर जमा करे।

विभाग से बात कर उसका निदान किया जाएगा। विदित हो कि रविवार को परिवहन अधिकारियों के विशेष जांच अभियान के दौरान बोधगया दोमुहान से 12 ई-रिक्शा जो बिना निबंधन के थे उसे पकड़ लिया गया और उसे जब्त कर लिया गया। जिससे आक्रोशित ई-रिक्शा चालको ने घंटो नोड वन के पास यातायात व्यवस्था को बाधित कर जाम कर दिया। पर बोधगया यातायात थाना प्रभारी रनंजय सिंह के पहल पर जाम को हटाया गया व चालको को बैठ कर समस्या के निदान करने को कहा गया।

वही दूसरी ओर इ-रिक्सा चालक संघ के अध्यक्ष उदय कुमार सिंह ने प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि पहले किसी भी तरह का कोई नियम कानून नही था अगर था भी तो किसी तरह का कोई दिशा निर्देश हम लोगो को मिलनी चाहिए थी, पर किसी तरह का कोई निर्देश सार्वजनिक नही किया गया। बिना किसी सूचना के कार्यवाई करना उचित नही है, बैठक के जरिये उक्त बातो की जानकारी दी गई है जिसे हमलोग आगे से पालन करेंगे। इस बैठक में बोधगया डीएसपी सिंधु शेखर सिंह ,डीटीओ जनार्दन कुमार, अंचल अधिकारी बोधगया शिव शंकर रॉय, बोधगया थाना प्रभारी सह इंसपेक्टर शिवकुमार महतो,यातायात थाना प्रभारी रणंजय सिंह सहित कई लोग भी शामिल थे।