शंकराचार्य मठ की बदलेगी तस्वीर, पर्यटकों की सुविधा के लिए होंगे कई कार्य: डीएम

0
94

बोधगया(पुरुषोत्तम कुमार): बोधगया स्थित शंकराचार्य मठ का सौंदर्यीकरण के लिए बुधवार को जिलाप्रशासन ने मठ परिसर का निरीक्षण किया व महंथ रमेशानन्दगिरी के साथ किये बैठक।जिलाधिकारी अभिषेक सिंह ने बताये की भारत सरकार के हृदय योजना द्वारा मठ को सौंदर्यीकरण के लिए मार्च 2017 में स्वीकृति मिली थी। जिसमे 1.43 करोड़ रुपये की लागत से मठ का सौंदर्यीकरण किया जाना था।जिसमे पूरे मठ परिसर के फर्स को पेविंग करना,बाउंड्री का जीर्णोद्धार करना था,नाला का निर्माण,मठ के द्वार का जीर्णोद्धार, पूर्वी द्वार पर विश्राम स्थल,शौचालय,पेयजल, कैंटीन सहित सीटिंग बेंच का कार्य है।

पर मठ के द्वारा एन ओ सी नही मिलने से कार्य को शुरू नही किया गया।उसी को लेकर निरीक्षण किया जा रहा है व मठ के महंत से कार्य की शुरुआत जल्द से जल्द किए जाने की बात की गई।इस योजना से होने वाले कार्यो से पर्यटको को सुविधा होगी।

जिलाधिकारी अभिषेक सिंह ने कहा कि यहा के लोगो का सौभाग्य की बात है कि उनके पास गया-बोधगया जैसे पवित्र धार्मिक स्थल है।जिलाधिकारी को मठ की संपत्ति को जो बिचौलियों द्वारा अवैध तरीके से कब्जा कर लिया गया है और जो अवैध तरीको से बिक्री कर दिया गया है उससे अवगत भी कराया गया।

जिलाधिकारी ने इसे बोधगया के अंचलाधिकारी शिवशंकर रॉय को इसकी जांच करने का निर्देश भी दिया गया।जिलाधिकारी अविषेक सिंह के अलावा गया सदर के अनुमंडल अधिकारी सूरज कुमार सिन्हा, गया नगर निगम आयुक्त ईस्वर शर्मा,प्रखण्ड विकाश पदाधिकारी विनोद कुमार,अंचल अधिकारी बोधगया शिवशंकर रॉय,डी एस पी बोधगया सिंधु शेखर सिंह,बोधगया थाना प्रभारी सह इंस्पेक्टर शिव कुमार महतो सहित अन्य लोग मौजूद थे।