35.1 C
Delhi
Homeबिहारमधुबनी: तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय कृषि सम्मेलन, 20 देशों के कृषि वैज्ञानिक लेंगे...

मधुबनी: तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय कृषि सम्मेलन, 20 देशों के कृषि वैज्ञानिक लेंगे भाग

- Advertisement -spot_img

मधुबनी(राजीव): मधुबनी के वाटसन उच्च विद्यालय परिसर में 17 फरवरी से प्रारंभ होने वाले तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय कृषि सम्मेलन की तैयारी जोर शोर से चल रही है.पांडाल को जहां अंतिम रुप दिया जा रहा है वही विभिन्न विभागों के स्टॉल के लिए स्थान चिन्हित कर उन्हें अंतिम रूप दिया जा रहा है. एसके चौधरी एजुकेशनल ट्रस्ट द्वारा संचालित कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा आयोजित इस तीन दिवसीय सम्मेलन में जहां 20 देशों के कृषि वैज्ञानिक भाग लेंगे वही 5 देशों के राजदूत भी शिरकत करेंगे. एसके चौधरी एजुकेशनल ट्रस्ट के अध्यक्ष डॉक्टर संत कुमार चौधरी ने बताया की मेगा नेत्र चिकित्सा शिविर में देश के विभिन्न स्थानों से ख्याति प्राप्त नेत्र सर्जनों की टीम द्वारा नेत्र शल्य चिकित्सा की जाएगी.

उन्होंने बताया कि अब तक 25 सौ से अधिक नेत्र रोगियों की जांच ओपीडी में की गई है जिसमें 500 नेत्र रोगियों का शल्य क्रिया हेतु चयन किया गया है. स्थानीय शंकर नेत्रालय के चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर कुमार कृष्णन द्वारा नेत्र रोगियों की गहन जांच की जा रही है.17 फरवरी से 25 फरवरी तक चलने वाले इस नौ दिवसीय नेत्र शल्य चिकित्सा शिविर में 5000 से अधिक नेत्र शल्य चिकित्सा का लक्ष्य रखा गया है. संस्था की ओर से रोगियों की निशुल्क जांच के अलावे उनके रहने, खाने, दवा एवं इंट्राऑकुलर लेंस की निशुल्क व्यवस्था की गई है. 

चौधरी ने बताया कि कृषि विज्ञान केंद्र चानपुरा-बसैठ मैं आगामी 19 फरवरी को मधुबनी के लोकप्रिय सांसद हुकुमदेव नारायण यादव पद्म भूषण से नवाजे जाने के उपलक्ष्य में संस्था द्वारा विशेष सम्मान समारोह आयोजित होंगे जिसमें श्री यादव को लिथुआनिया के राजदूत महामहिम मिस्टर जूलियस प्रणविक्स के हाथों सम्मानित किया जाएगा साथ ही मधुबनी लोक चित्रकला की यशस्वी कलाकार गोदावरी दत्त को पथरी से नवाजे जाने के उपलक्ष्य में संस्था उन्हें भी सम्मानित करेगी.

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -