मुजफ्फरपुर: कई शराब माफियाओं के साथ एक स्मैक कारोबारी गिरफ्तार

मुजफ्फरपुर/अभय राज: बिहार में शराब का कारोबार बदस्तूर जाड़ी है.शराब के कारोबार पर लगाम लगाने के लिए प्रशासन लगातार कार्यवाई भी कर रही है.फिर भी शराब के कारोबार पर लगाम लगाने में पुलिस विफल है.ताज़ा मामला ज़िले के सदर थाना क्षेत्र का है.जहाँ पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर त्वरित कार्यवाई करते हुए कई शराब माफियाओं समेत एक स्मैक कारोबारी को भी गिरफ्तार किया है.



बुधवार की शाम सदर थानाध्यक्ष को गुप्त सूचना मिली कि फकीरा चौक पर कुछ शराब कारोबारी शराब के साथ खड़े है.सूचना के आलोक पर त्वरित कार्यवाई करते हुए गस्ती दल को मौके पर भेजा गया.पुलिस को देखते ही शराब कारोबारी भागने लगा.लेकिन पुलिस पीछा कर तीन कारोबारी को शराब के साथ गिरफ्तार कर लिया.जिनका नाम राकेश,दीपक और प्रमांशु है.गिरफ्तार शराब माफियाओं से सख्ती से पूछताछ करने पर पुलिस को बताया कि उपेंद्र , सूरज और विकाश से शराब लेकर बीच मे अपना कमीशन रख कर शराब होम डिलीवरी का काम करते है.गिरफ्तार अभियुक्तों के निशानदेही पर कांटी थाना क्षेत्र के विकाश,सदर थाना क्षेत्र के नंदपुरी का उपेंद्र यादव और सूरज को अलग अलग जगहों से गिरफ्तार किया है.साथ ही पुलिस ने तीन मोटरसायकिल भी जप्त किया है.

बता दे कि गिरफ्तार अभियुक्तोंके सूरज स्मैक का भी कारोबार करता है.उसके पास से करीब 10 पुरिया स्मैक भी बरामद किया गया है.वही उपेंद्र यादव भगवानपुर पंचायत के वार्ड 3 का पार्षद भी रह चुका है.वर्तमान में उसकी माँ मीणा देवी वार्ड 3 की वार्ड पार्षद है.बीते कई महीनों से उपेंद्र पुलिस की आँखों मे धूल झोंक कर शराब का कारोबार कर रहा था.जिससे काफी संपत्ति भी अर्जित कर चुका है.

पूरे मामले पर सदर थाना के दरोगा राजेश कुमार यादव ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर कार्यवाई की गई है.जिसमे 6 शराब कारोबारियों को गिरफ्तार किया गया है.साथ ही तीन मोटरसाइकिल भी जप्त किया गया है.गिरफ्तार अभियुक्तों में सूरज शराब के साथ साथ स्मैक का भी कारोबार करता है.