मुजफ्फरपुर में मेहनाताना का पैसा न मिलने पर आत्मदाह का किया प्रयास

0
203

अभिनव सिंह : मुज़फ़्फ़रपुर प्रशासन अपने कार्य प्रणाली के वजह से अक्सर चर्चा में बना रहता है. आज फिर एक मामला प्रकाश में आया है. जिसमे प्रशासन पर मेहताना न देने का आरोप लगाया गया है.

तालीमी मरकज में पढ़ाने हेतु हथौड़ी थाना क्षेत्र के निवासी मोहम्मद मुमताज़ अहमद का शिक्षक के रूप में बहाली हुआ था. 2009 में प्रतिनियुक्ति हुई थी. वही 2009 से अभी तक कोई भुकतान नही हुआ है. मोहम्मद मुमताज़ अहमद ने बताया है कि 26,300 रुपया का चेक दिया गया था.अपितु उसमे कुछ त्रुटियां थी. जिस कारण प्रशासन को चेक वापस कर दिया गया. मोहम्मद मुमताज़ अहमद का कहना है कि वो जब भी जिलाधिकारी से मिलने आते है तो उन्हें मिलने नही दिया जाता है.

वही कभी ज़िला पदाधिकारी तो कभी DPO से मिलने के लिए बोला जाता है. मोहम्मद मुमताज़ अहमद का कहना है कि उनकी हालत खराब है.भूखमरी के कागार पर है. कभी स्टेशन पर तो सड़क पर सो कर अपना गुजारा कर रहे थे.

गौरतलब है कि मोहम्मद मुमताज़ अहमद ने 5 दिन पूर्व SDO (पूर्वी) को आवेदन दिया था .जिसमे बताया ज्ञावथ कि अगर 26 फरवरी तक भुकतान नही हुआ तो 27 फरवरी को समाहरणालय परिषर में आत्मदाह करेंगे. बता दे कि आज समाहरणालय परिषर में आत्म दाह का प्रयास भी किया.किंतु प्रशासन ने त्वरित कार्यवाई करते हुए मोहम्मद मुमताज़ अहमद को रोका.वही मोहम्मद मुमताज़ अहमद को नगर थाना में लाया गया.जहाँ आगे कि कार्यवाई चल रही है.