नालंदा : किसानो के हक मे सङक पर उतरेगी कांग्रेस,करेगी आंदोलन

बिहारशरीफ/अविनाश पांडेय : सोमवार को नालंदा जिला कांग्रेस कार्यालय राजेंद्र आश्रम में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी का 136 वां एवं कांग्रेस सेवा दल का 98 स्थापना दिवस जिलाध्यक्ष दिलीप कुमार की अध्यक्षता में उल्लास पूर्वक मनाया गया। सर्वप्रथम कांग्रेस पार्टी का तिरंगा जिसमें चरखे का निशान है जिलाध्यक्ष के द्वारा झंडोत्तोलन किया गया।

झंडोत्तोलन के उपरांत खूबसूरत 3 रंगों से तिरंगा से बना हुआ केक 136 वां स्थापना दिवस के अवसर पर काटा गया । सेवादल के चेयरमैन बच्चू प्रसाद को शॉल, तिरंगा युक्त अंग वस्त्र एवं नालंदा विश्वविद्यालय के भग्नावशेष का मोमेंटो प्रदान किया गया। इसके बाद एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष दिलीप कुमार ने कहा कि हमारी पार्टी अंग्रेज के जमाने से ही यानी 136 साल पुरानी पार्टी है।

कांग्रेस पार्टी ने ना सिर्फ इस देश को अंग्रेजी शासन से मुक्त कराया बल्कि अपने शासनकाल में कांग्रेस पार्टी ने देश को सजाने संवारने में भी अपनी अहम भूमिका निभाई। कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता से लेकर नेता तक अपनी नीति सिद्धांतों पर चलने के लिए संकल्पित हैं। कांग्रेस पार्टी का ही नारा था जय जवान और जय किसान। आज वर्तमान की सरकार पूर्णरूपेण उस नारे से भटक कर बर्बाद जवान और बदहाल किसान के नारे पर चल रही है।

जिस तरह से आज हमारे अन्नदाता किसान पूरे देश में आंदोलन कर रहे हैं। वह अपनी जायज मांगों के लिए खेतों से निकलकर सड़क पर आ गए हैं। फिर भी सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंग रहा है। मोदी सरकार अपने अड़ियल रवैया को दिखाकर किसानों को बर्बाद करने में लगी है। जबकि किसानों की सभी मांगें पूर्णरूपेण जायज हैं ।

स्थापना दिवस के अवसर पर सभी कांग्रेसियों ने शपथ लिया की हम सभी कांग्रेस की नीतियों और सिद्धांतों को गांव-गांव जन जन तक पहुंचाने का काम करेंगे साथ ही सभी लोगों ने किसानों को लेकर जिला में एक बड़ा आंदोलन करने का निर्णय लिया है। जो वर्ष 2021 के जनवरी माह में किया जाएगा।

इस अवसर पर जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष जितेंद्र कुमार सिंह, मीर अरशद हुसैन, अमोद कुमार पाठक, नवप्रभात प्रशांत, युवा अध्यक्ष उदय शंकर कुशवाहा मीडिया सेल प्रभारी फवाद अंसारी, मोहम्मद उस्मान गनी ,महताब आलम, रंजीत कुमार पांडेय, शकील देशनवी, संजय कुमार सिन्हा ,राजेश्वर प्रसाद, नवीन कुमार गांधी, रंजीत प्रसाद ,उषा देवी, हैदर अली अंसारी, इम्तियाज आलम ,हिमायूं अंसारी एवं दर्जनों कांग्रेसियों ने अपने विचार रखे।