नालंदा में जेल ब्रेक कांड की प्लानिंग पर पुलिस ने लगाई ब्रेक

0
62

— हिलसा जेल से कुछ कुख्यात अपराधियों को छुड़ाने की थी योजना
— प्लान के तहत हो रहा था काम, पुलिस की सक्रियता से बड़ी घटना टली
— पूछताछ में कई सनसनीखेज खुलासे

Biharsharif/Avinash pandey : नालंदा में बड़ी अनहोनी होने वाली थी। जेल ब्रेक कांड की तैयारी थी। प्लान के तहत काम हो रहा था। पुलिस की सक्रियता से बड़ी घटना टल गई। इस मामले में गिरफ्तार एकमात्र अपराधी ने कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं। जिसे सुनकर पुलिस महकमा भी भौचक है। 17 मार्च 2023 को जारी नालंदा पुलिस की प्रेस विज्ञप्ति में वर्णित तथ्य इसके साक्ष्य हैं। हिलसा थाना क्षेत्र के हरि बिगहा गांव निवासी नीतीश की तलाश पुलिस कर रही थी। नीतीश पर कई गंभीर कांड दर्ज है। पुलिस की फाइल में नीतीश आईपीसी की धारा 392,395 सहित अन्य धाराओं का आरोपित है। नीतीश की गिरफ्तारी के बाद कई सनसनीखेज खुलासे हुए।

जिसक आधिकारिक पुष्टि नालंदा के पुलिस अधीक्षक अशोक मिश्रा ने की है। प्रारंभिक पूछताछ में नीतीश ने पुलिस को बताया कि इनके अन्य सहयोगियों द्वारा हिलसा जेल में बंद अपने सहयोगियों को छुड़ाने के लिए नई घटना को अंजाम देने की योजना बनाई गई थी। योजना को मूर्त रूप देने के लिए कराएपरशुराय थाना अंतर्गत झरहा मोड़ पर इनके अन्य सहयोगी इनसे मिलने के लिए आने वाले थे। नीतीश की निशानदेही पर जब पुलिस उक्त स्थान पर अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर पहुंची, तब सभी अपराधी वहां से भाग गए। पुलिस ने वहां से एक लूटी गई मोटरसाइकिल एवं एक हथियार बरामद किया।

गिरफ्तार अपराधी नीतीश से पूछताछ के क्रम में इनके द्वारा भागने वाले अपने सहयोगियों का नाम पुलिस को बताया गया है। जिनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। हिलसा एसडीपीओ ने बताया कि हाल के दिनों में कराए परशुराय एवं हिलसा थाना अंतर्गत घटित कई आपराधिक घटनाओं के मद्देनजर एक विशेष पुलिस टीम का गठन कर संबंधित क्षेत्र में छापेमारी की जा रही थी। तभी पुलिस को सूचना मिली कि घटित लूट एवं डकैती का फरार अप्राथमिकी अभियुक्त नीतीश कुमार लगातार कराएपरशुराय एवं हिलसा थाना अंतर्गत अपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहा है।

नीतीश की गिरफ्तारी के लिए कराए परशुराय थाने की पुलिस द्वारा कई खुफिया जानकारी इकट्ठा की जा रही थी। इसी दौरान 16 मार्च 2023 को कराएपरशुराय थानाध्यक्ष को सूचना मिली कि अपराधी नीतीश कुमार जेल में बंद अपने सहयोगियों से मिलने के लिए हिलसा कारा आने वाला है। सूचना के तत्काल बाद छापेमारी कर हिलसा कारा के पास से खदेड़ कर पकड़ लिया गया। इस छापेमारी में हिलसा थानाध्यक्ष गुलाम सरवर, कराए परशुराय थानाध्यक्ष दीपक कुमार, हिलसा के पुलिस अवर निरीक्षक नीरज कुमार, पुलिस अवर निरीक्षक अर्जुन मंडल सहित अन्य पुलिसकर्मी शामिल थे।