नालंदा: डेयरी से 16 लाख गबन के आरोपी सहित हत्या के दो कांडों का प्राथमिक अभियुक्त गिरफ्तार

बिहारशरीफ/अविनाश पांडेय: नालंद में अपराध की पटकथा लिखने वाले संभल जायें। पुलिस व कानून की नजर से वह बच नहीं सकते हैं। नालंदा पुलिस अपने दावे के मुताबिक हर एक अपराध करने वालों को उनके अंजाम तक पहुंचा रही है। ताजा मामला दीपनगर थाना पुलिस से वास्ता रखता है। दीपनगर थाना पुलिस ने रविवार को दो बङी गिरफ्तारी की है। जिसमे पहली गिरफ्तारी 16 लाख रूपये गबन के आरोप में फरार चल रहे डेयरी प्रबंधक की है,जबकि दूसरी गिरफ्तारी हत्या के दो कांडों के प्राथमिक अभियुक्त व डुमरांवा पंचायत के मुखिया की है। यह दोनों बङी गिरफ्तारी इंस्पेक्टर सह दीपनगर थानाध्यक्ष मुश्ताक अहमद के द्वारा रविवार को की गयी।



दीपनगर थानाध्यक्ष मुस्ताक अहमद ने बताया नालंदा डेहरी के प्रबंधक धनंजय कुमार ने दीपनगर थाना कांड संख्या 301/20 दर्ज करायी थी। दर्ज कांड में नवादा जिले के अकबरपुर थाना क्षेत्र के फुलवा गांव निवासी चंद्रिका प्रसाद सिंह के पुत्र अनोज कुमार पर 16 लाख रूपये गबन का आरोप लगाया गया था। प्राथमिकी 11 सितंबर 2020 को दर्ज कराई गई थी। उनकी गिरफ्तारी को लेकर पुलिस काफी दिनों से प्रयासरत थी। रविवार को गुप्त सूचना मिली थी वह नवादा जिले के अकबरपुर में पाए गए हैं। सूचना के तत्काल बाद एक टीम का गठन कर उनकी गिरफ्तारी सुनिश्चित की गई।

इसी तरह दीपनगर थाना कांड संख्या 8/2019 दिनांक 2 जनवरी 2019 में नामजद अभियुक्त दीपनगर थाना क्षेत्र के मगड़ा गांव निवासी सुखी पासवान के पुत्र नगीना पासवान को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार नगीना पासवान वर्तमान में डुमरामा पंचायत के मुखिया हैं। थानाध्यक्ष ने बताया कि इन पर पूर्व में हत्या के दो कांड में प्राथमिकी अभियुक्त रहे हैं। इनकी गिरफ्तारी को लेकर पुलिस काफी दिनों से प्रयासरत थी। इनके संबंध में गुप्त सूचना मिलने के बाद इनकी गिरफ्तारी की गई।

थानाध्यक्ष ने बताया कि अभी कई और ऐसे फरार अपराधी है जिनकी सूची पुलिस ने तैयार कर रखी है। उनकी गिरफ्तारी को लेकर पुलिस अपना काम कर रही है। गौरतलब है कि पिछले दिनों दीपनगर थानाध्यक्ष मुस्ताक अहमद द्वारा अवैध बालू से लदे ट्रैक्टर को जप्त करते हुए 7 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था। दीपनगर थाना पुलिस के इस कार्रवाई के बाद थाना क्षेत्र में असामाजिक तत्वों के बीच खौफ का माहौल उत्पन्न हो गया है।