39 C
Delhi
Homeबिहारनवादानवादा: मरीज की जान बचाने के लिए डॉक्टर ने किया रक्तदान

नवादा: मरीज की जान बचाने के लिए डॉक्टर ने किया रक्तदान

- Advertisement -spot_img

नवादा/(पंकज कुमार सिन्हा): अक्सर सुनने को मिलता है कि डॉक्टर भगवान का रूप होता हैं । पर क्या आपने किसी डॉक्टर द्वारा मरीज को अपना ही खून देकर उसकी जान बचाने का कोई किस्सा सुना हैं। जी हाँ, नवादा में एक वाक्या सामने आया है। एक डॉक्टर ने अपना खून देकर मरीज की बचाई जान। जिसने मानवता की एक मिसाल कायम की हैं। यह मामला नवादा ज़िला के प्रसाद विगहा स्थित मैक्स मेडी अस्पताल का हैं। जहां के डॉक्टर एन के लाल ने अपना खून देकर एक महिला मरीज की जान बचाई। डॉक्टर किसी भी मरीज के लिए भगवान ही होता है।

बावजूद इसके अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहे मरीज को अपना खून देकर बचाने वाले डॉक्टर कम ही होते हैं। मैक्स मेडी हॉस्पिटल के डॉक्टर नीरज लाल इन्हीं में से एक हैं। नगर थाना क्षेत्र के झुनाठी गाँव से आयी एक महादलित परिवार की महिला को अधिक रक्तस्राव के कारण महिला की जान को खतरा था । अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहे मरीज को मैक्स मेडी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। मरीज के परिजन द्वारा रक्त का समुचित इंतज़ाम नहीं किये जाने तथा मरीज की बिगड़ती हालत को देखकर अचानक से चिकित्साधिकारी डॉ. नीरज लाल खुद अपना ब्लड देकर महिला मरीज की जान बचा ली।

जिससे एक बार फिर यह साबित हो गया कि वाकई डॉक्टर भगवान का दूसरा रूप होता है। इस बारे में जब डॉक्टर नीरज से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ईलाज कर मरीज का जीवन बचाना डॉक्टर की जिम्मेदारी हैं। अगर किसी को मेरी किडनी की भी जरुरत होती तो मैं वह भी दे देता। वहीं महिला के परिजनों ने कहा की हमलोगों के लिए यह डॉक्टर भगवान से कम नहीं हैं। मेरे पूरे परिवार इनका जीवन भर आभारी रहेगा। भगवान् साबित हुए ये डॉक्टर,अपना खून देकर मरीज की जान बचाई है।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -