नवादा में राजीव सिन्हा ने लॉटरी में जीते बाईक

0
816

नवादा(पंकज कुमार सिन्हा): आदित्य विजन में शुक्रवार को खरीदो और उपहार जीतो के विजेता होने का गौरव आदर्श होम डेवलपर्स के राजीव कुमार सिन्हा को प्राप्त हुआ। दुकान में खरीदारी करने के उपरांत राजीव सिन्हा को कई कूपन प्राप्त हुए थे, जिनमें उन्हें एक बाईक उपहार स्वरूप लॉटरी में निकला है। आदित्य विजन के प्रबंधक अभिषेक कुमार ने बताया कि नवादा में राजीव कुमार सिन्हा के साथ साथ प्रियंका कुमारी बाईक लॉटरी के विजेता हुए हैं।

ग्राहकों के साथ कुशल व्यवहार के कारण इसकी दुकान चल पड़ी है । उन्होंने लोगों से कहा कि बेहतर सेवा की वचनबद्धता के कारण ही मैंने आदित्य विजन से खरीदारी की और बाइक का विजेता बना । उन्होंने अन्य विजेताओं को भी बधाई देते हुए दुकान प्रबंधक अभिषेक कुमार को बधाई दी तथा उज्जवल भविष्य की कामना की। इस मौके पर दाऊद खान, रतन कुमार, अभिषेक कुमार, राकेश कुमार सिन्हा सहित अन्य लोग मौजूद थे।

आदित्य विजन द्वारा हमेशा ग्राहकों के लिए उचित उपहार और लॉटरी की व्यवस्था की जाती है। इस वर्ष भी खरीदो और जीतो का इनाम रखा गया है। जिसमें पटना में एक मकान, 4 फोर व्हीलर और सैकड़ों दो पहिया वाहन, मोबाइल खरीदारों के लिए बतौर उपहार घोषित किए गए हैं। खरीदारी करने वालों को दिए गए कूपन और लक्की ड्रॉ से निकाले जाने के उपरांत ही विजेता को उपहार दिया जाता है।

मांगों को लेकर धरना पर बैठे हैं उम्मीदवार अनुसेवक

नवादा समाहरणालय में रिक्तियों के आलोक में सारी प्रक्रिया के बाद भी नियुक्ति नहीं होने पर उम्मीदवार अनुसेवक धरना पर बैठे हैं। पिछले 10 दिनों से जारी धरना कार्यक्रम के तहत उम्मीदवार अनुसेवक जिला समाहर्ता से सारी प्रक्रिया के उपरांत नियुक्ति पत्र देने की मांग कर रहे हैं। नवादा के तत्कालीन जिलाधिकारी दिवेश सेहरा के द्वारा नियोजन से संबंधित सारी प्रक्रिया पूरी किए जाने के उपरांत नियुक्ति पत्र नहीं दिया गया था।

जिसकी मांग को लेकर संघ से जुड़े सदस्यों ने उम्मीदवार अनुसेवकों को नियुक्ति पत्र देने की मांग की है। नवादा प्रजातंत्र द्वार के समीप स्थित रैन बसेरा में उम्मीदवार अनुसेवक पिछले 10 दिन से धरना पर बैठे हैं। धरना में शामिल सुनील कुमार सिंह, नवल पासवान, नवीन कुमार, उमेश केवट, संजय कुमार कंधवे, रीमा कुमारी, अंजनी कुमारी , गीता कुमारी, बीना देवी, दिनेश पासवान, संजय कुमार चौधरी, राजकुमार पांडे, रवि कुमार सिन्हा, कुंदन कुमार वर्मा , उमेश पंडित, महेंद्र प्रसाद, चंद्रकांत शर्मा , सुबोध राजवंशी आदि लोगों ने बताया कि जिला प्रशासन की लापरवाही एवं मनमानी के कारण नियुक्ति पत्र का वितरण नहीं किया जा रहा है।

इसी उम्मीद पर उम्मीदवार अनुसेवक संघ से जुड़े सदस्य धरना पर बैठे हैं। मांगे पूरी हो जाने तक यह धरना जारी रखने की बात कही गई है। अब देखना यह है कि जीत जिला प्रशासन की होती है या धरने पर बैठे उम्मीदवार अनु सेवकों की। नियुक्ति पत्र की मांग करते करते वर्ष 2012 से 2019 तक कई लोग परलोक सिधार चुके हैं। परंतु प्रशासन के द्वारा इस संबंध में कोई भी कार्रवाई नहीं की गई है।