औरंगाबाद में नक्सलियों ने किया IED विस्फोट, लखीसराय के कोबरा सब इंस्पेक्टर रोशन शहीद

0
113

सेंट्रल डेस्क : औरंगाबाद-गया जिले के सीमावर्ती पचरूखिया लंगुराही के जंगल में बुधवार को आइइडी विस्फोट में एक सब इंस्पेक्टर शहीद हो गये. छापेमारी को पहुंचे कोबरा और सीआरपीएफ जवानों को देख लंगुराही जंगल में माओवादियों ने आईईडी ब्लास्ट किया, जिसमें कोबरा 205 के सब इंस्पेक्टर रौशन कुमार का पैर उड़ गया।

घायल एसआई को हेलीकॉप्टर से इलाज के लिए पटना भेजा गया। जहाँ इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। एक जवान जख्मी भी हुआ है। जख्मी डीके बोरा असम का है।

गया जिले के डुमरिया और औरंगाबाद जिले के पचरूखिया के बीच माओवादियों ने बुधवार की शाम आईईडी ब्लास्ट किया। इसके बाद कोबरा और सीआरपीएफ जवानों पर गोलीबारी शुरू कर दी। दोनों ओर से सैकड़ों राउंड फायरिंग होने की खबर है। शीर्ष नक्सली संदीप के दस्ते के जंगल में होने की जानकारी पर फोर्स पहुंची थी।

शहीद हुए लखीसराय के जवान रोशन कुमार ने 2016 में सीआरपीएफ में सब इंस्पेक्टर के पद पर ज्वाइन किया था. दिसंबर 2018 में रोशन सीआरपीएफ की कोबरा 205 बटालियन में आये और महज दो महीने में ही नक्सली घटना में शहीद हो गये. बताया जाता है कि शहीद रोशन कुमार लखीसराय के रामगढ़ चौक थाना क्षेत्र के गड़संडा गांव के रहने वाले मिथलेश कुमार के इकलौता बेटे थे. उनके परिवार में माता रगिना देवी, पिता मिथिलेश कुमार के साथ एक बहन मनीषा है.