गांधी सेतु सुपर स्ट्रक्चर के निर्माण में 100 करोड़ का घोटाला: प्रेम चंद्र मिश्रा

0
143

पटना/(नियाज़ आलम): कांग्रेस एमएलसी प्रेम चंद्र मिश्रा ने गांधी सेतु पर सुपर स्ट्रक्चर के निर्माण में अनियमितता का आरोप लगाया है। उन्होंने इस मामले में 100 करोड़ रुपये से ज़्यादा के घोटाले की बात कही है। प्रेम चंद्र मिश्रा ने पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा को भी कटघरे में खड़ा किया है। सदन में ध्यानाकर्षण के तहत प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि पटना में गंगा नदी के महात्मा गांधी सेतु पर सुपर स्ट्रक्चर के निर्माण कार्य में अनुबंध कॉन्ट्रैक्ट के द्वारा निर्माण कार्य में निम्न गुणवत्ता वाले स्टील का प्रयोग किया जा रहा है।

अनुबंध के अनुसार जंग प्रूफ अधिक ताकतवर स्टील के स्थान पर परियोजना के 70% लागत एक हज़ार करोड़ रुपये की 70 हज़ार मेट्रिक टन सामान्य गैर जंग प्रूफ स्टील की खरीद की जा रही है। ऐसा करना ना अनुबंध का उल्लंघन है बल्कि जब दो अधिकारियों तत्कालीन कार्यपालक अभियंता सुनील कुमार सिंह एवं एग्जीक्यूटिव इंजीनियर आई एन मिश्रा ने जंग प्रूफ स्टील ना होने पर लिखित विरोध दर्ज किया तो दोनों अभियंता को सेतु पुनर्निर्माण कार्य से ही हटा दिया गया।

सुपर स्ट्रक्चर को टुकड़ों टुकड़ों में सेगमेंट को काटने की जगह पुल की आधे से अधिक लंबाई के मलबे को नदी में गिराया जा रहा है जो अनुबंध के विपरीत है। सेतु की एक लाइन को नवंबर 2018 तक पूरा होना था, लेकिन अभी काफी समय और लगेगा। निर्माण कार्य का कोई पर्यवेक्षण मॉनिटरिंग नहीं हो रहा है। प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि यह परिस्थितियां अत्यंत ही गंभीर हैं तथा बड़े पैमाने पर अनियमितताओं की ओर संभावनाओं का इशारा कर रही है। मैं सरकार से इस संबंध में सदन में एक स्पष्ट वक्तव्य की मांग करता हूं।