बिहार विधान परिषद के रिटायर्ड डिप्यूटी सेक्रेटरी की घर में मिली लाश, हत्या किए जाने की है संभावना

पटना/अमित जायसवाल: बिहार विधान परिषद के रिटायर्ड डिप्यूटी सेक्रेटरी तारा चंद रजक की लाश मिली है. लाश कहीं और से नहीं बल्कि उनके घर के कमरे में ही पड़ी हुई थी. घर के बाहर मेन गेट पर ताला लटका हुआ था. इस बात का पता चला, जब लाश की दुर्गंध बाहर आने लगी. धीरे-धीरे पूरे इलाके में फैलने लगी. जिसके बाद ही इलाके के लोगों को कुछ अनहोनी की आशंका हुई. ये मामला है पटना सिटी के खांजेकला थाना का. दीवान मुहल्ला में रामजानकी चौराहा के पास तारा चंद रजक किराए के एक मकान में अकेले ही रह रहे थे.


परिवार में तीन बेटे और पत्नी के होने के बाद भी वो साल 2012 से ही अलग रह रहे थे. बंद घर के अंदर से बदबू मिलने की जानकारी इलाके के लोगों ने खांजकला थाना को दी. थानेदार अबरार अहमद और उनकी टीम ने मौके पर पहुंच कर छानबीन की. गेट का ताला तोड़ा गया. जब पुलिस टीम घर के अंदर पहुंची तो कमरे में तारा चंद रजक की लाश पड़ी हुई थी. उनके गले में एक गमछा लपेटा हुआ था. जांच के दरम्यान पुलिस पाया कि तारा चंद रजक की पीठ पर चोट के निशान हैं. जो इस संदेहास्पद मौत को हत्या किए जाने की तरफ इशारा करते हैं.

पुलिस के अनुसार किसी जान-पहचान वाले शख्स ने ही इनकी हत्या की होगी. लाश करीब 4 दिन पुरानी होने की संभावना है. पुलिस को शक है कि जिसने भी हत्या की होगी, वो गुड फेथ में घर में आया होगा. कुछ समय बीताने के बाद तारा चंद रजक की हत्या कर दी गई होगी. फिर बड़े आराम से घर के गेट पर ताला लगा फरार हो गया होगा. शुरूआती जांच में पुलिस को पता चला है कि ताराचंद का किसी दूसरी महिला के साथ भी संबंध था. दूसरी शादी किए जाने की बात सामने आ रही है. इस प्वाइंट पर भी पुलिस मामले की जांच कर रही है.

लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. साथ ही अज्ञात अपराधी के खिलाफ हत्या का एफआईआर दर्ज किया गया है. दूसरी तरफ मौके पर पहुंचे तारा चंद रजक के बेटे सौरभ का कहना है कि वो और उसका भाई तीन-चार दिनों से कॉल कर रहा था, लेकिन उसके पापा कॉल रिसिव नहीं कर रहे थे. घर के अंदर आलमिरा का लॉक टूटा हुआ मिला है. साथ ही सारे सामान भी बिखरे मिले हैं. हो सकता है कि हत्या के इस मामले को अपराधी ने लूटपाट का शक्ल देने की कोशिश की हो. हालांकि पूरा मामला पुलिस की जांच और कार्रवाई के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा.