बिहटा : आतंकी हमले में शहीद जवानों को कैंडल मार्च निकाल दी गयी श्रद्धांजलि

0
88

बिहटा/ मृत्युंजय कुमार: पुलवामा में हुए आतंकी हमले के खिलाफ देशभर में आक्रोश है और लोग पाकिस्तान के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन करते हुए सरकार से शहीदों के बलिदान का बदला लेने की बात कह रहे हैं। शनिवार को बिहटा के लोगों ने भी पाकिस्तान के खिलाफ जमकर गुस्सा व्य्यक्त करते हुए आतंकी हमले की निंदा किया।

शहीद सीआरपीएफ के जवानों की याद में कई जगहों पर स्वेच्छा से अपने अपने प्रतिष्ठान बंद रखे और जगह-जगह श्रद्धांजलि सभा का आयोजन कर शहीदों को पुष्पांजलि अर्पित किया गया। सिमरी में पंचायत समिति सदस्य दिलीप कुमार , द टैगोर पब्लिक स्कूल अमहारा में राजकुमार, माउंट लिट्रा जी स्कूल में नवीन कुमार,बिहटा पब्लिक स्कूल में उदय सिंह ,बिहटा मस्जिद में मो ए असगर , रामबहादुर सिंह इंटर कॉलेज में प्रो सूर्य देव त्यागी आदि के नेतृत्व में कैडल मार्च निकाला गया।

नीतीश राज में दिख रहा विकास : नरेंद्र सिंह

नीतीश कुमार के मुख्यमंत्रित्व काल में पूरे बिहार का सर्वांगीण विकास धरातल पर दिख रहा है। ग्रामीण इलाकों में जहां सड़क, बिजली नहीं थी वहीं अब इनका जाल बिछ गया है। ग्रामीण कच्ची सड़कें पक्की हुई हैं। उक्त बातें शनिवार को बिहटा में आयोजित जदयू के कार्यक्रम में संबोधित करते हुये फ्रंट लाइन के निदेशक सह जदयू नेता नरेंद्र सिंह ने कही।उन्होंने कहा कि महादलित परिवारों में भी खुशहाली आयी है।

सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री के अथक प्रयासों से बीमारू राज्य बिहार विकासोन्मुख प्रदेश बन गया है।इस मौके पर जदयू सेवादल के जिलाध्यक्ष अतीस कुमार सिंह ने कहा कि अमन चैन की चाहत लिए जनता जहां विकास की राह जोह रही है, वहीं नीतीश सरकार भी जनता की उम्मीदों पर खड़ा उतरने के लिए कृतसंकल्पित है। जनता के बीच अभी बहुत कार्य बाकी है जरूरत है सिर्फ एक बार फिर जनता सहयोग करे भारत विश्व का नंबर वन राष्ट्र होगा।

वहीं युवा नेता नरेंद्र सिंह के कार्यशैली पर विस्तार पूर्वक चर्चा करते हुय कहा कि जदयू में नरेंद्र सिंह के समागम होने पर पार्टी को काफी मजबूती मिलेगी ।वही प्रखण्ड अध्यक्ष राजू यादव ने कहा सरकार की चल रही विकासात्मक योजना कि विस्तार पूर्वक चर्चा करते हुए आगामी 21 फरवरी को पटना में आयोजित समागम सम्मेलन में ज्यादा से ज्यादा जनता को पंहुचने की अपील की ।इस मौके पर सुरेंद्र सिंह बाबा,बिनय सिंह ,विमल कुमार,संजय सिंह,धर्मेद्र सिंह, अजय कुमार राजू ,सुरेंद्र सिंह,पवन पटेल,संजय मौआर ,बबलू पांडेय,गोपाल कुमार सहित सैकड़ो लोग शामिल थे ।


सामुदायिक स्‍वयंसेविकाओं का आपदा रेसपांस प्रशिक्ष्‍ण कार्यक्रम का समापन

शनिवार को बिहटा के सिकंदरपुर स्थित नाइन बटालियन एनडीआरएफ में आयोजित 12 दिवसीय समुदायिक स्‍वयंसेविकाओं के लिए आपदा रेस्‍पांस प्रशिक्षण समापन हुआ।वही समापन में पंहुचे बिहार राज्‍य आपदा प्रंबधन प्राधिकरण के उपाध्यक्ष व्‍यासजी ने प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए कहा कि बाढ व भूकंप आपदा के मद़देनजर सीतामढी जिला बहुत ही संवेदनशील है।

आप लोग आपदा में अपनी निपुणता का व्‍यवसायिक तरीके से इसतेमाल करते हुए हमेशा लोगों की मदद करने के लिए तत्‍पर व तैयार रहे। साथ ही अपनी जानकारी को अपने आस–पास के लोगों के साथ भी साझा करें। उन्‍होंने 9 बटालियन एनडीआरएफ द्वारा सफलातापुर्वक इस प्रशिक्षण को चलाने के लिए पूरी प्रशिक्षिण टीम को धन्यवाद दिया। वही द्वितीय कमान अधिकारी रवि कान्‍त ने कहा कि आपदा जोखिम न्यूनीकरण के लिए समुदायिक क्षमता निर्माण बहुत ही जरूरी है। आपदा में जानमाल का नुकसान न हो, इसके लिए जरूरी है कि आपदा प्रबंधन तथा रेस्पांस मैकेनिज्‍म की जानकारी समुदाय के हरेक व्‍यक्ति को हो।

उन्‍होंने पूरे प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रतिभागियों द्वारा बढ-चढ कर उत्‍साह के साथ हिस्‍सा लेने के लिए उनका धन्‍यवाद दिया।वही उन्होंने कहा कि आपदा रेस्‍पांस पर अधारित इस प्रशिक्षण में सीतामढी जिला के 54 सामुदायिक स्‍वयंसेि‍वकाओं को विभिन्‍न जीवन रक्षक तकनीकों के बारे में प्रशिक्षित किया गया है। प्रशिक्षण के दौरान महिला प्रतिभागी सामुदायिक स्‍वयंसेविकाओं को आपदा रेस्‍पांस से सम्‍बंधित विभिन्‍न पहलुओं जैसे– आपदा, आपदा के प्रकार एवं प्रभाव, अर्ली वार्निग सिस्‍टम एवं इसका महत्‍व, बाढ-बचाव तकनीक, स्‍थानीय संसाधनों की मदद से इम्‍प्रोवाइज्‍ड राफ्ट बनाना, अस्‍पताल पूर्व चिकित्‍सा तकनीक, रोप रेस्‍कयू तकनीक आदि के बारे में विस्‍तृत रूप से जानकारी दी गयी तथा इसका अभ्‍यास भी करवाया गया।इस मौके पर उप कमाण्‍डेंट कुलदीप गुप्‍ता ,वरीय सदस्‍य डॉ सत्‍येन्‍द्र,डॉ मधुबाला, प्रोजेक्‍ट अधिकारी, बीएसडीएमए तथा 9 बटालियन एनडीआरएफ के प्रशिक्षण टीम के जवान मौजूद थे।

बिजली चोरी में चार लोगो पर जुर्माना
नेउरा फीडर के अंतर्गत बिजली चोरी करते हुए चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए जुर्माना किया है।वही बिभाग के एसडीओ मृत्युंजय कुमार ने बताया कि गोढ़ना स्थित अरण्या इंजीनियरिंग प्राइवेट लिमिटेड के उपर 2162 रुपये ,उपेन्द्र कुमार को तीस हजार पांच सौ बारह रुपये,काशी सिंह को चार हज़ार सात सौ तीस रुपये,और रंजीत सिंह को सोलह हजार नौ सौ छियालीस रुपये का जुर्माना किया गया है।वही उन्होंने कहा कि जुर्माना की राशि नही देने पर इन लोगो पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

बिहिया ने जेआरएम 10 रनों से हरा कर फाइनल में किया प्रवेश

बिहटा के जीजे कॉलेज के खेल मैदान पर आयोजित 23वीं शाहिद इनामी क्रिकेट प्रतियोगिता के सेमिफाइनल मैच बहुत ही रोमांचकारी रहा। कभी दर्शक की तालियां तो कभी अफसोस की नजारा मनोरम था ।इस रोमांचकारी मैच में फाइनल में  बिहिया ने जेआरएम  को 10 रनो से पराजित कर फाइनल प्रयोयोगिता के लिये अपना स्थान शुरक्षित किया।

बिहिया ने टॉस जीतकर कर पहले बल्लेबाजी करते हुय निर्धारित 30 ओभर में 169 रन बनाये। जिसमे शाहबाज-32(30),नितेश -26(33) रन बनाए। जेआरएम के अंशुमान और अभिनव ने दो-दो विकेट लिये ।जबाबी पारी जेआरएम  ने खेलते हुए प्रवीण-39(19),हर्षित-29(21)  के सहयोग से मात्र 159 रनों पर ऑल आउट हो गयी। वही बिहिया  के सहवाज-3/ 34 और रितेश-2/28 विकेट लिए ।मैन ऑफ द मैच के खिताब सहवाज को दिया गया। रविवार का मैच मीडिया एकादश और आयोजक एकादश के बीच खेला जाएगा ।