पटना की गाड़ियों में जून से लगेंगी सीएनजी किट

0
167

पटना/प्रतिनिधि: तीन महीने बाद यानी जून से बिहार की राजधानी में चलाई जा रही पेट्रोल गाड़ियों में सीएनजी किट लगाने का काम शुरू हो जाएगा। शुरू में चारपहिया पेट्रोल वाहनों और पेट्रोल ऑटो में सीएनजी किट लगाई जाएंगी। गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (गेल) की मानें तो राजधानी में किट लगाने के एप्रूवल के लिए किट निर्माता कंपनियों ने परिवहन विभाग से संपर्क करना शुरू कर दिया है। परिवहन विभाग से एप्रूवल मिलने पर ही किट लगेंगी। गेल के चीफ इंजीनियर मो. घयूर ए जाहिरी ने बताया कि पटना में सीएनजी किट लगाने को लेकर चार-पांच प्रमुख सीएनजी किट निर्माता कंपनियों ने संपर्क किया है।

नौबतपुर में सीएनजी स्टेशन मार्च तक शुरू होने के बाद किट लगाने की दिशा में काम तेज होगा। कुछेक कंपनियों ने परिवहन विभाग से भी किट लगाने के लिए एप्रूवल के संबंध में बात की है। किट निर्माता कंपनी राजधानी में अपना कार्यालय खोलेगी अथवा लोगों को फ्रेंचाइजी देकर किट लगवाएगी। किट निर्माता कंपनियों के प्रतिनिधि लगातार गेल और परिवहन विभाग के अधिकारियों से संपर्क में जुटे हैं। वहीं, आने वाले समय में किट निर्माता कंपनियों की ओर से विभिन्न ऑटोमोबाइल कंपनियों की वर्कशॉप से भी करार किए जाने की योजना है। .

तीन साल में हाइड्रो टेस्टिंग

मिली जानकारी के अनुसार सीएनजी किट लगाने वाले ग्राहकों को प्रत्येक तीन साल में हाइड्रो टेस्टिंग करानी होगी। इस पर डेढ़ हजार खर्च होंगे। टेस्टिंग में सीएनजी सिलेंडर में जमा कचरे की सफाई के साथ धुलाई व जरूरी ट्रीटमेंट की जाती है। टेस्टिंग के बाद तीन साल तक चलाने की मंजूरी मिल जाती है। वहीं, समय पर टेस्टिंग नहीं कराने पर आग लगने या किट के खराब होने का खतरा रहता है। साथ ही किट लगाई जाने वाली गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन में किस तरह का बदलाव होगा, इसको लेकर भी परिवहन विभाग गाइडलाइन देगा।

किट लगाने पर भी पेट्रोल का विकल्प रहेगा बरकरार

एक किट निर्माता कंपनी के अधिकारी ने बताया कि पेट्रोल ऑटो व चारपहिया वाहनों में सीएनजी किट लगाने पर भी पेट्रोल का विकल्प बरकरार रहेगा। आपात स्थिति में सीएनजी का पंप नजदीक नहीं होने पर ईंधन खत्म होने पर पेट्रोल का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए केवल स्विच बदलना होगा।

किट के लिए लगेंगे 20 से 35 हजार रुपए

गेल के अधिकारी ने बताया कि दिल्ली में किट लगाने वाली कंपनी की दर पर ही पटना में भी किट लगेगी। गाड़ियों में दो तरह की किट लगेगी। एक नॉर्मल और दूसरा सिक्वेंशियल किट। चार पहिया वाहनों में नॉर्मल किट 25 से 30 हजार में जबकि सिक्वेंशियल किट के लिए ग्राहकों को 30 से 35 हजार देने होंगे। ऑटो में किट लगाने का खर्च 20 से 25 हजार आएगा।