पटना: नीतीश कुमार के इस्तीफे पर अड़े विपक्षी, दुबारा शुरू हुई विधानसभा की कार्यवाही भी हंगामेदार

0
91

पटना: बिहार विधानसभा में मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन शोषण कांड को लेकर विपक्ष के हंगामे के कारण सभा की कार्यवाही दो बजे दिन तक के लिए स्थगित कर दी गई थी.इसके बाद दुबारा जब कार्यवाही शुरू हुई तो राजद के सदस्य वेल में पहुँच गए और सरकार विरोधी नारों के साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इस्तीफे की मांग करते रहे हालांकि इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी कई विधायी कार्य निपटाते रहे. इसमें स्वर्ण आरंक्षण बिल के अलावा कई महत्वपूर्ण कार्य शामिल थे.

इससे पहले विधानसभा की कार्यवाही सोमवार की सुबह प्रारंभ होते ही राजद के मुख्य सचेतक ललित यादव, आलोक मेहता, भाई विरेंद्र तथा अन्य सदस्य अपने अपने स्थान से खड़े होकर मुजफ्फरपुर के पॉक्सो कोर्ट में इस कांड में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की भूमिका को लेकर दी गई याचिका के संदर्भ में विपक्ष के कार्य स्थगन प्रस्ताव पर चर्चा कराने की मांग करने लगे। भाई वीरेंद्र ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इस्तीफे की मांग करते हुए सदन में कहा कि मुजफ्फरपुर के पोक्सो कोर्ट ने इस मामले का संज्ञान लिया है।

ललित यादव, आलोक मेहता समेत राजद के सभी विधायक नीतीश कुमार के इस्तीफे की मांग करते हुए शोरगुल करने लगे और सदन के बीचो बीच आ गए। हंगामा कर रहे सदस्यों से विधानसभा अध्यक्ष विजय चौधरी ने कहा कि किसी ने कोर्ट में सिर्फ आवेदन दिया है जिसे सीबीआई को अग्रसारित किया गया है। लगभग तीन मिनट तक जोरदार चले हंगामे के बाद विधानसभा अध्यक्ष विजय चौधरी ने सभा की कार्यवाही दो बजे दिन तक के लिए स्थगित कर दी गयी थी।