35.1 C
Delhi
Homeबिहारपटनासंत रविदास ने समाज हित में जाति से ऊपर उठने का संदेश...

संत रविदास ने समाज हित में जाति से ऊपर उठने का संदेश दिया- लापट राम

- Advertisement -spot_img

बिहटा/मृत्युंजय कुमार:  बिहटा के खेदलपुरा में गुरुवार को संत शिरोमणि जगत गुरु रविदास की जयंती धूमधाम से मनाई गई। रविदास जयंती कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पूर्व जिला पार्षद अमरनाथ प्रसाद ने कहा कि गुरु रविदास ने देश और समाज को नई दिशा दिखाया है। उन्होंने ने कहा कि आदमी अपने कर्म से ही छोटा-बड़ा होता है न कि धन या जाति से। रविदास जी ईश्वर के अनन्य भक्त थे, लेकिन वह अपने कार्य को ही ईश्वर की सबसे बड़ी पूजा मानते थे। उन्होंने कुरीतियों के खिलाफ आवाज उठाई थी।

वहीं मुख्य अतिथि रिटायर्ड डीएसपी लापट राम ने गुरु रविदास के विचारोंं को उल्लेख करते हुए कहा कि संत रविदास ने एक ऐसे समाज की स्थापना की बात कही है जहां जाती पाती में ऊंच-नीच में भेदभाव नहीं हो और सभी समाज मानव कल्यायाण के लिए आगे बढ़कर कार्य करेंं।संत रविदास ने आधुनिक भारत के  निर्माण के लिए अपनी जान की आहुति दे दी।

वहीं रिटायर्ड डीएसपी योगेंद्र सिंह,जदयू प्रखंड अध्यक्ष राजू यादव, मुखिया महेश राम,बैजनाथ सिंह देशमुख,योगेंद्र राम,मुकेश राम आदि वक्ताओं ने अपने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि प्रत्यके इंसान की पहचान उसके कर्म से होती है। संत रविदास जी ने लोगों को संदेश दिया था कि मन चंगा तो कठौती में गंगा.. अर्थात् मन की पवित्रता ही सबसे बड़ी है। संत रविदास जी ने एकेश्वरवाद का समर्थन किया और सभी मनुष्यों को ईश्वर की संतान बताया था।

नशा, लोभ, मोह , मत्सरता , अभिमान मिटाने के लिए भगवान श्री राम के आदर्श को अपनाने की जरुरत- सुप्रिया जी 
राम मर्यादा पुरुषोत्तम इसलिए थे कि जो भी कार्य करते मर्यादा में रहकर करते हैं। अच्छे पुत्र ,अच्छे भाई ,अच्छे पति, अच्छे पिता कैसे बनते हैं वो राम के जीवन से ही हम सीख सकते हैं।उक्त बातें बिहटा के राजपुर हनुमान मंदिर के पास चल रहे हैं श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ सह हनुमान प्राण प्रतिष्ठा के चौथे दिन प्रवचन कर्ता पूज्यनीया सुश्री सुप्रिया जी महाराज एवं अमृत आनंद जी महाराज कही। उन्होंने कहा कि जबतक भगवान श्री राम के आदर्श पर चलोगे नही पुनः रामराज्य स्थापित नही हो सकता है।जब राम बाल्यावस्था में थे तो सुबह उठकर अपने माता, पिता गुरु एवं अन्य बड़े लोगों को प्रणाम करते थे।

” प्रातः काल उठकर रघुनाथा माता पिता गुरु नावहीं माथाआज के बच्चे मैं ऐसा संस्कार होना चाहिए। आज समाज के लोगो को बोलने नहीं आता, अच्छा व्यवहार करने नहीं आता। किसके साथ कैसा व्यवहार किया जाता है उन्हें पता नहीं होता। दूसरे पर दोषारोपण करना आसान होता है वही काम जब अपने करना पड़ता है तब पता चलता है ।किसी भी बड़ा कार्यक्रम के लिए बहुत से अच्छे लोगों की आवश्यकता होती है।थोड़े-थोड़े मिलाकर अगर काम किया जाता है तो बहुत बड़ा कार्य हो जाता है।

लोगो को  नशा, लोभ, मोह , मत्सरता ,अभिमान मिटाने के लिए भगवान राम ने अपने जीवन चरित्र लोगों को बताया था।ये चीजो का हल विद्या प्राप्त करने से किया जा सकता है।भगवान राम जब सुबह उठकर अपने माता ,पिता, गुरु, एवं अन्य लोगों को प्रणाम करते थे , तो फल से हुआ बालक राम बनवास राम बनते हुए राम बनवासी राम बनते हुए अंततः मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम बन गए ।           

 क्रिकेट प्रतियोगिता में मनेर को हराकर नौबतपुर एलेवन विजयी 
 
गुरुवार को बिहटा के अलहनपुरा खेल मैदान पर आयोजित आदर्श स्पोर्ट्स क्लब ग्रामीण टूर्नामेंट के फ़ाइनल मैच काफी रोमांचकारी रहा।फाइनल मुकाबले में नौबतपुर एलेवन की टीम ने मनेर एलेवन की टीम को 9 विकेट से हराकर खिताब पर कब्जा जमाया।जिसमे मैन ऑफ द मैच का खिताब ऋषभ कुमार और मैन ऑफ सीरीज का खिताब नौबतपुर के राहुल कुमार को दिया गया।मनेर की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित ओवर में 8 विकेट खोकर मात्र 55 रन बनाये।जिसमे दीपक-12, संतोष -12 रन बना पाए।

वही ऋषभ तीन, विजय और छोटू दो दो विकेट लिए।जबाबी पारी खेलने उतरी नौबतपुर एलेवन के टीम में राहुल 17 गेंद में 44 रन, सौरव 10 गेंद में 12 रन व रवि 2 गेंद में 4 के बनाकर नौ विजेट से जीत हासिल कर ली।मैच के समाप्ति के बाद मुख्य अतिथि विधायक भाई वीरेन्द्र ने सभी रनर और विनर खिलाड़ियो को पुरस्कृत किया।वही विधायक भाई वीरेन्द्र ने अपने संबोधन में कहा कि खेल मनुष्य के जीवन का मूल-भूत आवश्यकता है।युवा के सर्वांगीण विकास के लिए यह जरूरी है कि खेल व शिक्षा दोनों का महत्व दिया जाए।

देश के स्वस्थ एवं सुदृढ़ भविष्य के लिए युवाओं को प्रारंभ से ही खेलों के लिए प्रेरित करना चाहिए।सरकार को भी खेलों को बढ़ावा देने के लिए अलग से बजट देना चाहिए व खिलाडिय़ों को आर्थिक रूप से कोई परेशानी न हो इस बात पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए।इस मौक़े पर पूर्व के कई खिलाड़ी सहित आयोजक को भी सम्मानित किया गया।मैच का इम्पायरिंग रजनी व मोनु ने किया मौक़े पर चंद्र कांत, सुनील, ज्योतिष, संजीव,अशोक,राहुल,बबलू,रिकी,श्रीकांत,राजेश,भोला,अमन,रंजित,रंजन सहित कई लोगों की भूमिका अहम रही  ।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -