खुद को सचिवालय सहायक बता लड़की के परिवार को ठगने की थी तैयारी, शातिर गिरफ्तार

0
434

पटना/(अमित जायसवाल): एक ऐसा शातिर पकड़ा गया है, जो खुद को सचिवालय सहायक बताता था. फर्जी तरीके से खुद को सरकारी पदाधिकारी बताकर एक लड़की और उसके परिवार को बड़ा धोखा देने वाला था. शादी के नाम पर 20 लाख रुपए और एक कीमती फोर व्हीलर गाड़ी ठगने की तैयारी में था. विश्वास करके लड़की वालों ने शादी तय भी कर दी थी. कपड़ा और कुछ रुपए देकर 17 फरवरी को रिश्ता तय कर दिया था. लेकिन शादी तय करने के महज कुछ घंटों के अंदर शातिर शिव शंकर की असलियत लड़की और उसके परिवार वालों के सामने आ गई. 
शातिर शिव शंकर मूल रूप से बांका जिला का रहने वाला है.

अपने इलाके में इसने तेज़ी से ये अफवाह फैला रखी थी कि उसका सरकारी नौकरी हो गया है. वो पटना में सचिवालय सहायक के पद पर काम कर रहा है. बांका के रहने वाले ही किसी व्यक्ति के माध्यम से जमालपुर की रहने वाली लड़की से इसकी शादी की बात चली. लड़की के परिवार को लगा कि लड़का सही कह रहा है. लेकिन जब लड़की ने शिव शंकर से बात की तो बार-बार वो अपना डिपार्टमेंट बदलने लगा. इसके बाद लड़की को शक हुआ. फिर उसने परिवार वालों को बताया. इसके बाद लड़की के मामा अभिरंजन कुमार सिंह और परिवार के दूसरे लोगों के साथ पटना पहुंच गए. फिर सचिवालय कैंपस से शिव शंकर को अपने कब्जे में लिया.

उसके बाद उद्योग विभाग के सचिव के पास सभी लोग पहुंच गए. जब सचिव ने पूछताछ करना शुरू किया तो शिव शंकर खुद को खाद्य-आपूर्ति विभाग में बता दिया. फिर खाद्य आपूर्ति विभाग डिप्युटी डायरेक्टर को बुलाया गया. इसके बाद तो इसके फर्जीवाड़ा की पूरी असलियत सामने आ गई. इसके बाद परिवार वाले शिव शंकर को लेकर पटना के एसएसपी गरिमा मलिक के पास पहुंच गए. एसएसपी ने सचिवालय थाना में एफआईआर करने का आदेश दिया है. अब शिव शंकर सचिवालय थाना की पुलिस के कब्जे में है और पूरे मामले की जांच चल रही है.