39.1 C
Delhi
Homeबिहारपूर्णियाँपूर्णिया : जिले का आतंक एवं दो परिवारों का जानी दुश्मन इनामी...

पूर्णिया : जिले का आतंक एवं दो परिवारों का जानी दुश्मन इनामी अठिया चढा पुलिस के हत्थे

- Advertisement -spot_img

पूर्णिया (राजेश कुमार झा) : पूर्व जिप सदस्य विश्वजीत सिंह उर्फ रिंटू सिंह, बेनी सिंह एवं नीरज झा हत्याकांड का मुख्य नामजद आरोपी एवं जिले का आतंक मोस्टवांटेड इनामी अठिया आखिर पुलिस के हत्थे चढ़ ही गया! अठिया की गिरफ्तारी के साथ ही पुलिस पर उठ रहे सवाल भी आज स्वतः समाप्त हो गये, अठिया की गिरफ्तारी के बाद पूर्णिया पुलिस ने राहत की सांस ली है!

बताते चलें कि 2020 विधानसभा चुनाव के दिन कुख्यात अपराधी बिट्टू सिंह का छोटा भाई बेनी सिंह की हत्या के बाद पहली बार चर्चे में आया था आशीष सिंह उर्फ अठिया और आज देखते ही देखते पूर्णिया पुलिस की हिटलिस्ट सबसे ऊपर 50 हजार का इनाम दर्ज करवा लिया! लेकिन बेनी सिंह की हत्या के बाद अठिया बिहार छोड़कर मध्यप्रदेश चला गया था!

अठिया अपने पास कोई मोबाइल फोन नहीं रखता था.अठिया मोबाइल फोन के लिये एक लड़का को 5000 रुपया महीना में रखा था.जिनको भी अठिया से बात करना होता था तो उसी लड़के के मोबाइल नम्बर पर फोन करता था! वही लड़का अठिया को फोन देता था.इसलिए अठिया को पकड़ने के लिये पुलिस की टेक्निकल टीम भी काफी परेशान रही!

इसी दरमियान पूर्णिया पुलिस की एसआईटी टीम को केशव झा नाम का एक तुरुप का इक्का हाथ लग गया.जिसने पुलिस के आगे सारी कहानी ही बयाँ कर दी, केशव झा की गिरफ्तारी के बाद ही पूर्णिया पुलिस की एसआईटी टीम ने 72 घण्टे के दिन रात मेहनत कर अठिया सहित तकरीबन पूरे गैंग को उठाने में कामयाब रही! केशव झा के कहने पर ही अठिया को पूर्णिया आने के लिये राजी किया गया!

पूर्णिया पुलिस की एसआईटी टीम ने पहले से ही पूरी प्लानिंग कर ली थी! जिसकी भनक पूर्णिया पुलिस अधीक्षक दयाशंकर के अलावे सिर्फ और सिर्फ तीन लोगों को थी! एसआईटी ने बीती रात अठिया की गिरफ्तारी के लिये चार जगह अपनी टीम को लगाए, मिशन को काफी सीक्रेट रखा गया था!

एसआईटी अठिया की गिरफ्तारी के लिये पूरी तरह तैयार होकर आने का इंतजार कर रही थी! एसआईटी किसी भी कीमत में चूकना नहीं चाहती थी, इसलिए चार जगहों पर टीम की तैनाती की गई थी ताकि एक से अगर किसी तरह चूक हो तो दूसरा तैयार हो जाय!

तब तक एसआइटी को खबर मिली कि अठिया पूर्णिया के हरदा में एक ढाबे पर बैठा हुआ है, पुलिस तो पहले से ही जाल बिछाकर बैठे हुए थी, लेकिन तब तक अठिया को भी पुलिस की भनक लग चुकी थी! उसी वक्त उसके साथ वालों ने कहा कि हे रे अठिया भाग…पुलिस घेर लेलकौ.लेकिन तबतक बहुत देर हो चुकी थी, एसआईटी की घेराबन्दी से अठिया बाहर नहीं निकल सका !

गिरफ्तार अभियुक्त का नाम :

  1. आशीष सिंह उर्फ अठिया पिता-पप्पु सिंह दोनो सा0+थाना सरसी जिला पूर्णियाॅं।
    (के. हाट थाना कांड संख्या-19/22 एवं सरसी थाना कांड संख्या-158/21, एवं 145/20)
  2. केशव कुमार झा पिता-ललित कुमार झा साकिन-मरवाड़ी धर्मशाला थाना-नवगछिया जिला-नवगछिया
    (के. हाट थाना कांड संख्या-19/22 एवं सरसी थाना कांड संख्या-158/21, एवं 145/20)
  3. छोटु सिंह उर्फ ऋषिकेश उर्फ पत्थर सिंह पिता-स्व विजय सिंह साकिन-घरारी थाना-हायाघाट जिला-दरभंगा (सपदमत)
    (के. हाट थाना कांड संख्या-19/22एवं सरसी थाना कांड सं.-158/21 एवं 145/20, 146/21)
  4. सिटु कुमार सिंह पिता-राम पुजन सिंह थाना-सरसी वर्तमान काॅलेज चैक के . हाट थाना (सपदमत) (के. हाट थाना कांड संख्या-19/22 )
  5. रमेश कुमार पिता-देवनंदन साह साकिन-दशरथपुर
    (के. हाट थाना कांड संख्या-19/22 एवं सरसी थाना कांड संख्या-158/21)
  6. सुशात कुमार पिता-मनोज कुमार सिंह साकिन-सरसी थाना-सरसी
    (सरसी थाना कांड संख्या-158/21)
  7. मोनू कुमार सिंह पिता-मुनचुन सिंह साकिन-भवनपुरा थाना-खरीक जिला-नवगछिया (सरसी थाना कांड संख्या-158/21)
  8. मिठठु कुमार सिंह पिता-भरत सिंह साकिन-सरसी थाना-सरसी जिला-पूर्णियाॅं
    ( एक सप्ताह पूर्वन्यायिक हिरासत में भेजे गये )
    (के. हाट थाना कांड संख्या-19/22 एवं सरसी थाना कांड संख्या-158/21)

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -