पूर्णिया: उपलब्धियों से भरा रहा विशाल शर्मा का कार्यकाल

पूर्णिया(राजेश कुमार झा): पूर्णिया के निवर्तमान पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा के स्थानांतरण पर पूर्णिया वासियों को थोड़ा दुख तो हुआ लेकिन इस बात की भी खुशी रही कि इनके कार्यकाल में उपलब्धियां काफी रही.बताते चलें कि पुलिस अधीक्षक के रूप में पूर्णिया जिले में पदभार ग्रहण करने के बाद इनका पूरा कार्यकाल उपलब्धियों से भरा रहा और साथ ही साथ इन्हें कई तरह की चुनौतियों का भी सामना करना पड़ा.



बताते चलें कि पुलिस अधीक्षक के रूप में विशाल शर्मा की जॉइनिंग के महज कुछ ही दिनों बाद नव्या अपहरण कांड का मामला इन्होंने महज 4 घण्टों में सुलझा दिया.दूसरी सबसे बड़ी उपलब्धि देश के नक्सली संगठनों की कमर तोड़ दी.वर्षों से नागालैंड से हथियार तस्करी करने वाले देश के सबसे बड़े तस्करों की गैंग को यूबीजीएल,लांचर और AK47 जैसे घातक हथियारों के साथ गिरफ्तार कर जेल की सलाखों के पीछे डालना.

पूर्णिया के पुलिस अधीक्षक कार्यालय को ISO सर्टिफिकेट से नवाजा जाना,जो पूरे देश मे मात्र दूसरा पुलिस अधीक्षक कार्यालय बना.पासपोर्ट वेरिफिकेशन के मामले में सबसे फास्ट पूर्णिया देश का दूसरा जिला बना.अपराधियों की नाक में नकेल कसने में भी सबसे अव्वल रहे.क्राइम करने वाला कितना भी बड़ा क्यों न हो इन्होंने उन्हें महीनों जिले से बाहर रखा.शराबबंदी में इनके कार्याकाल मे 16 करोड़ रुपये की शराब पकड़ाई.जो कि पूरे बिहार में एक बड़ी उपलब्धियों में शामिल रही.इनके कार्यकाल में अपराधी हो या भर्स्ट पुलिस अधिकारी कोई भी इनकी नजर से नही बच सका.आज पूर्णिया के नाम इतनी उपलब्धियां देने वालों को पूर्णिया वासियों की तरफ से सलाम.