11 माह से नहीं मिला राशन-किरासन, डीलर के विरुद्ध जांच के लिए मौजहा पहुंची बीडीओ

0
119

सुपौल/प्रतिनिधि: जिले के किसनपुर प्रखंड क्षेत्र के समाजवादी उच्च विद्यालय के प्रांगण में स्थानीय डीलर के शिकायत के विरुद्ध बीडीओ सह बीएसओ पहुंच कर मौजूद राशन किरासन मामले में लाभुकों से जानकारी हासिल किया। वुधवार को समाजवादी उच्च विद्यालय मौजहा के प्रांगण में  पहुंची बीडीओ सह बीएसओ अलीशा कुमारी ने उपस्थित लाभुकों से रूबरू हुई। विद्यालय प्रांगण में मौजूद वार्ड नम्बर 01 से 08 के लाभुकों ने कहा कि हम लोगों को पहले वाले डीलर से राशन किरासन स समय मिल जाता था। लेकिन जब से हम लोगों का नाम स्थानीय डीलर छुतहरु यादव के निकट गया है। तब से हम लोगों राशन किरासन नहीं मिल रहा है। जब हम लोग राशन किरासन लेने उनके पास जाते हैं तो वे गाली गलौज कर डांट फटकार कर भगा देते हैं।

आज 11 माह से हम लोगों को राशन किराशन नहीं मिला है। इसके लिए यदि हम लोगों के समस्या का समाधान नहीं होता है तो कार्यालय से लेकर सड़क तक जाम के विरोध प्रदर्शन करेंगे। जहां बीडीओ के द्वारा लाभुकों के राशन कार्ड को देखा गया। जिसमे लाभुकों को कई महीने से राशन किरासन नहीं मिला है। इसके लिए बीडीओ सह बीएसओ ने मौके पर मौजूद स्थानीय मुखिया जगन्नाथ महतो से जिन लाभुकों को राशन किरासन नहीं मिला है। उन सभी लाभुकों का नाम, राशन कार्ड नम्बर एवं कितने माह से राशन किरासन नहीं मिला है। एक सूची बनाकर आज उपलब्ध कराने के लिए कहा गया। वहीं बीडीओ ने मौजूद डीलर छुतहरु यादव से राशन किरासन वितरण पंजी का मांग करने पर उन्होंने बताया कि वितरण पंजी साथ मे नहीं है।

नदी के उस पार घर पर रखा हुआ है। उपलब्ध करा देंगे। जहां बीडीओ सह बीएसओ ने कहा कि दो घन्टे के अंदर वितरण पंजी उपलब्ध करावें। वहीं मौजूद लाभुकों को आश्वस्त कराते हुए कहा कि यदि ये सही ढंग से राशन किरासन का वितरण लाभुकों के बीच नहीं करते हैं तो अगले माह से आप लोगों को बगल के किसी दूसरे डीलर के द्वारा ससमय राशन किरासन उपलब्ध कराया जाएगा।

इस बाबत बीडीओ सह बीएसओ ने बताया कि डीलर से वितरण पंजी एवं मुखिया से लाभुक का नाम, राशन कार्ड नम्बर तथा कितने माह से राशन किराशन नहीं मिला है लिखकर देने के साथ उसका फोटो स्टेट कर जमा करने का निर्देश दिया गया है। लाभुक के कार्ड देखने से पता चलता है कि लंबे समय से ये लोग राशन किरासन नहीं लिया है। इस मामले में कागजात मिलने के बाद जांचोपरांत उचित कार्रवाई की जाएगी।