36.1 C
Delhi
Homeबिहारसमस्तीपुरजीविकाओ ने 10 सूत्री मांगों को लेकर शहर में निकाला जुलूस

जीविकाओ ने 10 सूत्री मांगों को लेकर शहर में निकाला जुलूस

- Advertisement -spot_img

समस्तीपुर (राजेश झा ) : बिहार प्रदेश जीविका कैडर संघ के आह्वान पर  हजारों की संख्या में जीविका दीदियों ने 10 सूत्री मांगों को लेकर शुक्रवार को शहर में जुलूस निकाल कर जिला समाहरणालय का घेराव करते हुए हाथों में बैनर पोस्टर लेकर अपनी मांगों को लेकर नारेबाजी करते हुए दिखे। इस दौरान मुख्य सड़क मार्ग पर जाम लग गया और सड़क के दोनों  ओर वाहनों की लम्बी कतारें लग गई, जिससे धंटे भर लोग मार्ग में फंसे रहे । जाम के कारण शहर के अन्य सड़क में  ट्रैफिक लोड बढने से लोगों को कठिनाईयों का सामना करना पड़ा । जीविका दीदियों का मुख्य मांग जिसमें सभी कैडरों को जीविका की ओर से नियुक्ति पत्र, पहचान पत्र और निर्धारित ड्रेस, मानदेय का कंट्रीब्यूशन सिस्टर पर अभिलंब रोक लगाने, मानदेय का भुगतान नियमित और बैंक खाते में करने, काम से हटाने की धमकी पर रोक लगाकर धमकी देने वालों पर सख्त कानूनी कार्रवाई करने, प्रखंड स्तर पर काम करने करने वाले कैडर का मानदेय 18000, संकुल स्तर पर 15000, ग्राम संगठन / स्वयं सहायता समूह स्तर पर 13000 प्रतिमाह करने, सभी कैडर को क्षेत्र भ्रमण हेतु प्रखंड स्तर पर 4000, संकुल 3000, ग्राम संगठन 2000, सहायता समूह स्तर पर 1000 रूपए भत्ता सहित अन्य मांग कर रहे हैं ।


मौके पर संघ के प्रदेश कोषाध्यक्ष चंदन कुमार ने कहा कि जीविका महिला सशक्तिकरण के लिए बिहार सरकार की एक परियोजना है जिससे बिहार की करोड़ों महिलाएं जुड़ी हुई है । जो विभिन्न सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे है मानव श्रृंखला, वित्तीय साक्षरता, शराब बंदी, मनरेगा सर्वेक्षण, विद्यालय निरीक्षण, स्वच्छता और शौचालय निर्माण योजना इसके कई उदाहरण है इसके बावजूद भी सरकार हम लोगों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। सरकार जीविका को सिर्फ वोट बैंक के रूप में देख रही है और इस्तेमाल कर रही है लेकिन अब यह सब चलने वाला नहीं है सरकार अगर हमारी 10 सूत्री मांगों को नहीं मानती है तो जीविका से जुड़े करोड़ों जमीनी स्तर के कार्यकर्ता और जीविका  दीदी आगामी चुनाव में नोटा का बटन दब आएंगे। वहीं जिलाध्यक्ष अनामिका कुमारी ने कहा कि जीविका सिर्फ कहने को रह गई है महिला सशक्तिकरण की परियोजना में यहां सिर्फ लूट खसोट, शोषण और प्रताड़ना हो रही है, सरकार को हमारी जायज मांगों के साथ-साथ इन सभी मुद्दों पर पहल करनी चाहिए । मौके पर संघ के समस्तीपुर जिला अध्यक्ष संतोष कुमार, खगरिया के जिला अध्यक्ष प्रवीण कुमार ने भी अपनी अपनी बातें कहीं। इस दौरान जुलूस में राजेश कुमार, खुशबू कुमारी, विरेंद्र कुमार, नीलम भारती, दिलेश्वर कुमार, रोशन कुमार, शोभा देवी, पिंकी देवी, मधु देवी, चंदा कुमारी, नीतू कुमारी, अनुपमा कुमारी, अक्षय कुमार, अनामिका कुमारी, पूनम कुमारी, अर्चना कुमारी, सविता कुमारी, रंजना देवी, आशा देवी, बृजेश कुमार, संजीव कुमार सहित हजारों कैडर और जीविका  दिदिया शामिल थी।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -