जिला कृषि पदाधिकारी पर करवाई करने के लिए संयुक्त सचिव को जिलाधिकारी ने लिखा

0
50

सासाराम/अरविंद कुमार सिंह : समाहरणालय में जिला पदाधिकारी धर्मेंद्र कुमार सिंह की अध्यक्षता में सोमवार विभागों की समीक्षा बैठक की गई। जिलाधिकारी ने समीक्षा बैठक के दौरान कृषि विभागों की समीक्षा की जिलाधिकारी ने समीक्षा क्रम में वर्तमान समय में किसानों के बीच उर्वरक संबंधी शिकायतें को लेकर के गहन समीक्षा की। जिसमें जिला कृषि पदाधिकारी रोहतास से अद्यतन जानकारी प्राप्त की गई तो कोई स्पष्ट जानकारी नहीं दी गई। जबकि जिले के उर्वरकों की कालाबाजारी के रोकते हुए किसानों के बीच वितरण कराने थोक उर्वरक विक्रेताओं के विरुद्ध सघन छापामारी का समुचित कार्रवाई करने का निर्देश पूर्व में उन्हें दिया गया था।

इसके अतिरिक्त जिला प्रशासन द्वारा बार-बार प्रखंड वार गुरुवार को खाद का विवरण आदि के संबंध में जांच दल गठित कर जांच प्रतिवेदन उपलब्ध कराने के लिए दोषी पाए जाने वाले थोक विक्रेताओं खुदरा विक्रेताओं एव संलिप्त कर्मियों के विरुद्ध कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया था। इसके बावजूद जिला कृषि पदाधिकारी द्वारा कोई कार्रवाई नही की गई और संबंधित कर्मियों के विरुद्ध अभी तक कोई कार्रवाई नही की गई। इससे स्पष्ट होता है उनके द्वारा अपने कर्मियों एवं पदाधिकारियों के ऊपर कोई नियंत्रण नहीं रखा जा रहा है। सभी बिंदुओं का उल्लेख करते हुए कृषि सचिव को जिला कृषि अधिकारी के विरुद्ध आवश्यक कार्यवाही हेतु अनुशंसा के साथ पत्र भेजा गया।

जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिया कि शीतलहर प्रकोप को देखते हुए सरकार से प्राप्त निर्देश के आलोक में विद्यालय को खोलने तथा उसे बंद करने आदि के संबंध में समुचित कार्रवाई सुनिश्चित करें। इसके साथ ही निर्देश दिया कि जिला शिक्षा विभाग के संबंधित लंबित सी डब्ल्यू जे सी एवं एमजेसी मामलों को सही समय पर प्रति पत्र दायर करते हुए माननीय न्यायालय के द्वारा पारित आदेशों का अनुपालन कराना सुनिश्चित करें।

स्वास्थ्य विभाग की प्रगति कार्यों की समीक्षा की असैनिक शल्य चिकित्सक मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी होतास को निर्देश दिया कि वर्तमान समय में करोना के रोकथाम के लिए समुचित कार्रवाई करते हुए ऑक्सीजन प्लांट को ठीक करते हुए हर स्थिति में सुनिश्चित करें ताकि आवश्यकता पड़ने पर इसका उपयोग तुरंत किया जा सके। मौके पर स्वास्थ्य विभाग शिक्षा विभाग सहित कई अधिकारी उपस्थित रहे।