ऊर्जा विभाग के सचिव संजीव हंस ने निर्माणधीन पावर-सब स्टेशन की समीक्षा की

स्टेट डेस्क/पटना: ऊर्जा विभाग के सचिव संजीव हंस ने शुक्रवार को नव मुजफ्फरपुर जिले में निर्माणाधीन पावर-सब-स्टेशन की अद्यतन स्थिति एवं राजस्व वसूली की समीक्षा की।


मुख्य अभियंता (ट्रांसमिशन) ने जानकारी दी कि IPDS योजना के तहत अंचल कैंपस में एक पावर-सब-स्टेशन, को चालू कर दिया गया है। जबकि सिटी पार्क एवं बीएमपी -6, कन्हौली को इस माह के अंत तक चालू करने का लक्ष्य है। इसके अलावा दो पावर-सब-स्टेशन- बाजार समिति एवं जिला स्कूल, मुजफ्फरपुर का कार्य प्रगति पर है।

राज्य योजना (state Plan) के तहत एक पावर-सब-स्टेशन, बिन्दा को चालू कर दिया गया है एवं तीन पावर-सब-स्टेशन, कांटी ब्लॉक कैम्पस, बाजितपुर एवं केरमा का कार्य प्रगति पर है।

DDUGIY योजना के तहत (पूर्ववर्ती Non-DF Area) दो पावर-सब-स्टेशन,रामपुर भेरियाही एवं बहिलवारा रूपनाथ को चालू कर दिया गया है। तीन पावर-सब-स्टेशन, फतेहाबाद, बरियारपुर एवं औराई में कार्य प्रगति पर है। DDUGIY योजना के तहत (पूर्ववर्ती DF Area) आठ (08) पावर-सब-स्टेशन, मझौलिया, बेरई नॉर्थ, अख्तियारपुर परैया, द्वारिकानगर, कांटा पिरौछा, पानापुर, पताही एवं झिटकाही मुधबन में कार्य प्रगति पर है।

मुख्य अभियंता, ट्रांसमिशन, मुजफ्फरपुर ने बताया कि मुजफ्फरपुर ग्रिड की क्षमता 3X50 MVA है। SKMCH ग्रिड की क्षमता 2×50 MVA से बढ़ाकर 3X5O MVA की जा रही है। ग्रिड उपकेन्द्र मुशहरी एवं मोतीपुर की क्षमता 2×160 + 3×50 MVA है। दोनों ग्रिड उपकेन्द्रों में एक-एक अतिरिक्त 150 MVA पावर ट्रांसफार्मर लगाया जा रहा है।

संचरण लाइन की क्षमता बढ़ाने के लिए मुजफ्फरपुर ग्रिड से SKMCH ग्रिड एवं MTPS से SKMCH ग्रिड के बीच
Panther Conductor को हटाकर HTLS Conductor लगाया गया है, जिसमें लोड लेने की क्षमता क्रमशः सिंगल सर्किट पर 60 मेगावाट की जगह 140 मेगावाट हो गयी है जबकि डबल सर्किट पर 120 की जगह 280 मेगावाट हो गयी है।
440/220/132 केवीए ग्रिड उपकेंद्र सीतामढी से 220/132/33 केवीए ग्रिड उपकेंद्र मोतीपुर को जोड़ा गया है, जिससे MTPS कांटी पर निर्भरता कम हो गई है। इससे voltage Profile में भी सुधार होगा। मुख्य अभियंता ने बताया कि उपर्युक्त कार्यों से मुजफ्फरपुर जिले में निर्वाद्ध एवं गुणवत्तापूर्ण विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित की जा सकेगी।

राजस्व वसूली की समीक्षा में बताया गया कि विद्युत आपूर्ति प्रमण्डल, मुजफ्फरपुर(शहरी-1), विद्युत आपूर्ति प्रमण्डल, मुजफ्फरपुर(शहरी-2), विद्युत आपूर्ति प्रमण्डल, मुजफ्फरपुर(पूर्वी), विद्युत आपूर्ति प्रमण्डल, मुजफ्फरपुर(पश्चिमी) की ओर से राजस्व वसूली के लिए बकायोदारों पर आवश्यक कार्रवाई की गयी है। बकायेदारों का विद्युत कनेक्शन काटा गया है। विद्युत ऊर्जा की चोरी करनेवाले पर प्राथमिकी दर्ज की गई। मुजफ्फरपुर जिले में माह मार्च 2021 में 69.52 करोड की राजस्व वसूली (सरकारी छोड़कर) की गयी। 22115 दोषी विद्युत उपभोक्ताओं का विद्युत विच्छेदन एवं ऊर्जा चोरी के विरूद्ध 758 प्राथमिकी दर्ज की गयी । बिलिंग एवं राजस्व वसूली कार्य पर ऊर्जा सचिव ने संतोष जाहिर किया।

बैठक में विद्युत अधीक्षण अभियंता, विद्युत आपूर्ति अंचल, मुजफ्फरपुर, विद्युत कार्यपालक अभियंता(परियोजना). मुजफ्फरपुर, विद्युत कार्यपालक अभियंता, विद्युत आपूर्ति प्रमण्डल, मुजफ्फरपुर(शहरी-1), विद्युत कार्यपालक अभियंता, विद्युत आपूर्ति प्रमण्डल, मुजफ्फरपुर(शहरी-2), विद्युत कार्यपालक अभियंता, विद्युत आपूर्ति प्रमण्डल, मुजफ्फरपुर(पूर्वी), विद्युत कार्यपालक अभियंता, विद्युत आपूर्ति प्रमण्डल, मुजफ्फरपुर(पश्चिमी), विद्युत कार्यपालक अभियंता, ट्रांसमिशन, मुजफ्फरपुर भी मौजूद थे।