15.1 C
Delhi
Homeबिहारसीतामढ़ीसीतामढ़ी : महिला आईआईटी स्थित डेडिकेटेड कोविड सेन्टर, अस्पताल, नवनिर्मित जीएनएम संस्थान...

सीतामढ़ी : महिला आईआईटी स्थित डेडिकेटेड कोविड सेन्टर, अस्पताल, नवनिर्मित जीएनएम संस्थान का जायजा लिया : डीएम

- Advertisement -

सीतामढ़ी/रविशंकर सिंह : डीएम सुनील कुमार यादव ने महिला आईआईटी स्थित डेडिकेटेड कोविड सेन्टर, सदर अस्पताल स्थित मातृ- शिशु अस्पताल, नवनिर्मित जीएनएम संस्थान आदि का जायजा लेकर वहाँ कोविड को लेकर उपलब्ध व्यवस्थाओ यथा बेड की उपलब्धता, ऑक्सिजन की उपलब्धता, वेंटिलेटर की उपलब्धता सहित अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया एवम उपस्थित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को कई निर्देश भी दिए।

उन्होंने सर्वप्रथम महिला आईटीआई स्थित डेडीकेटेड कोविड-19 सेन्टर में पहुंचकर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने डेडीकेटेड कोविड सेंटर में सुरक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लिया साथ ही ऑक्सीजन की उपलब्धता, दवा की उपलब्धता ,डॉक्टर एवं नर्सिंग स्टाफ की रोस्टर सूची आदि के संबंध में विस्तार से जानकारी प्राप्त किया एवं कई आवश्यक दिशा निर्देश उपस्थित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिया।

गौरतलब हो कि कोविड सेंटर में 200 बेड की व्यवस्था है। जिसमें वर्तमान में 100 बेड पर ऑक्सीजन की उपलब्धता है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि सभी बेड पर ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित करें। उन्होंने साफ सफाई एवम सेनेटाइजेशन को लेकर भी कई आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने सदर अस्पताल पहुंचकर मातृ- शिशु अस्पताल का निरीक्षण किया एवं मातृ शिशु अस्पताल के दूसरे भाग में 40 बेड पर कोरोना के इलाज के लिए सभी आवश्यक व्यवस्था अविलंब बहाल करने का निर्देश दिया ।गौरतलब हो कि उक्त सभी 40 बेड पर ऑक्सीजन की उपलब्धता है, साथ ही यहां आईसीयू में 12 बेड की उपलब्धता है।

6 वेंटिलेटर एवं 6 बायोपिक मशीन उपलब्ध है। जिलाधिकारी ने मातृ शिशु अस्पताल के दूसरे भाग का भी निरीक्षण किया एवं वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया एवम निर्देश दिया कि मातृ शिशु अस्पताल में सभी नियमित चिकित्सा होती रहनी चाहिये। उन्होंने सदर अस्पताल स्थित 200 एलपीएम एवं 1000 एलपीएम के दोनों ऑक्सीजन प्लांट का भी निरीक्षण किया।उन्होंने निर्देश दिया कि किसी भी स्थिति से निपटने को लेकर दोनों प्लांट से 24 घंटे ऑक्सीजन आपूर्ति हो सके इसे हर हाल में सुनिश्चित करे।

जिलाधिकारी ने नवनिर्मित जीएनएम संस्थान पहुंच कर वहां की व्यवस्थाओं का भी जायजा लिया। उन्होंने जीएनएम संस्थान में उपलब्ध 160 बेड पर कोरोना के इलाज को लेकर 3 दिनों के अंदर ऑक्सीजन सहित सभी प्रकार की व्यवस्थाओं को बहाल करने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने सिविल सर्जन को निर्देश दिया कि बेलसंड स्थित सदर अनुमंडलीय अस्पताल में सभी 60 बेड पर ऑक्सीजन सहित सभी प्रकार की इलाज की सुविधा हर हाल में सुनिश्चित करें। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि सभी पीएचसी में कम से कम 10 बेड पर करना के इलाज हेतु सभी प्रकार की व्यवस्था आज शाम तक पूर्ण कर ले।

जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया के सभी पीएचसी में कल दिनांक 7 जनवरी 2022 शुक्रवार को 10:30 बजे मॉक ड्रिल द्वारा पूर्वाभ्यास कर ले ताकि हमारे अस्पताल हर परिस्थितियों से निपटने के लिए हर समय तैयार स्थिति में रहे एवं जिले के कोरोना संक्रमित रोगियों का ससमय इलाज हो सके।

- Advertisement -






- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -