सीतामढी : जदयू के वरिष्ठ नेता राणा रणधीर सिंह चौहान ने अपने आवासीय कार्यालय में स्वतंत्रता संग्राम के अमर सेनानी बाबू वीर कुंवर सिंह का मनाया विजयोत्सव समारोह

सीतामढी/रंजीत मिश्रा : जदयू के वरिष्ठ नेता राणा रणधीर सिंह चौहान एवं बेलसंड के पूर्व विधायक सुनीता सिंह चौहान ने अमर सेनानी बाबू वीर कुंवर सिंह के विजयोत्सव समारोह को कोरोना गाईडलाइन का पालन करते हुए रघुनाथपुरी स्थित अपने आवासीय कार्यालय में बाबू वीर कुंवर सिंह के चित्र पर पुष्प माला अर्पित कर उन्हें याद किया है।


जदयू के वरिष्ठ नेता राणा रणधीर सिंह चौहान ने बताया है कि अमर सेनानी बाबू वीर कुंवर सिंह जी का विजयोत्सव समारोह पूरे बिहार में बिहार सरकार के पूर्व मंत्री जय कुमार सिंह के नेतृत्व में हम लोग बड़े ही धूमधाम से मनाते थे। इस बार कोरोना को देखते हुए बिहार सरकार के गाइडलाइन का पालन करते हुए हम लोगों ने इस समारोह को घर में ही मनाने का निर्णय लिया है। अगले साल कोरोना को भगाकर ऐतिहासिक विजयोत्सव समारोह मनाएंगे।

उन्होंने बताया है कि भारत के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के अमर सेनानी महानायक बाबू कुंवर सिंह का जीवन देश प्रेम की बलिवेदी पर प्राण उत्सर्ग करने वालों को सदा प्रेरणा देने वाला था, आने वाली पीढ़ी के मन में देश प्रेम का जज्बा भरने वाले प्रेरणा पुंज के रूप में उन्हें सदा याद किया जाएगा। 80 वर्षों की उम्र में भी युद्ध मे विजय प्राप्त करने के लिए भी वे इतिहास के अमर व्यक्तित्व के रूप में स्मरणीय हैं। राजपूत समाज के उज्जैन शाखा के चिराग बाबू कुंवर सिंह का व्यक्तित्व सभी को साथ लेकर अन्याय एवं अपमान और गुलामी के विरुद्ध लड़ने वाले के रूप में पूरे विश्व में प्रसिद्ध है।

भोजपुर जिला के जगदीशपुर गांव में जन्मे बाबू वीर कुंवर सिंह अपनी आजादी कायम रखने के लिए लड़ते रहे। वरिष्ठ जदयू नेता राणा रणधीर सिंह चौहान ने आगे बताया है कि हम इस बात के लिए बिहार के यशस्वी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का आभार व्यक्त करते हैं कि उन्होंने बिहार के अनमोल रतन बाबू कुंवर सिंह की स्मृतियों को जिंदा रखने के लिए अनेकानेक काम किए हैं ।उनके नाम पर पटना में पार्क का नाम और जगदीशपुर में विकास के अनेक कार्यक्रम इसका प्रमाण हैं। उन्होंने कहा है कि कोरोना महामारी के कारण विस्तार से कार्यक्रम नहीं कर पाने का मलाल है लेकिन कोरोना समाप्त होने पर बाबू वीर कुंवर सिंह जी की स्मृति को जीवंत रखने के लिए महापर्व का आयोजन किया जाएगा।