15.1 C
Delhi
Homeबिहारसीतामढ़ीसीतामढ़ी में पूर्व सैनिक दिवस (वेटरन्स डे) का हुआ आयोजन

सीतामढ़ी में पूर्व सैनिक दिवस (वेटरन्स डे) का हुआ आयोजन

- Advertisement -


सीतामढ़ी/रविशंकर सिंह : वेटरन्स इण्डिया सीतामढी़ (अखिल भारतीय पूर्व सैनिक संगठन) द्वारा कोविड नियमों का पालन करते हुए पूर्व ‘सैनिक दिवस’ संगठन के संरक्षक डॉ. प्रतिमा आनंद के आवास पर मनाया गया।

इस अवसर पर पूर्व सैनिक अनिल कुमार ने बताया देश में भारतीय सशस्‍त्र सेनाओं द्वारा वर्ष 2017 से प्रत्येक वर्ष 14 जनवरी को हमारे बहादुर सेना नायकों और पूर्व सैनिकों की राष्‍ट्र के प्रति निस्‍वार्थ सेवा और बलिदान के सम्‍मान में पूर्व सैनिक दिवस (वेटरन्स डे) मनाया जाता है। शुरुआत में इसे आर्मिस्टिस डे कहा जाता था।

यह दिन भारतीय सशस्‍त्र सेनाओं के पहले कमांडर-इन-चीफ फील्‍ड मार्शल के. एम. करियप्‍पा, ओबीई के सेना में दिए गए अतुलनीय योगदान की याद में हर साल मनाया जाता है। फील्‍ड मार्शल करियप्‍पा 1953 में इसी दिन यानि 14 जनवरी को सेवानिवृत्त हुए थे।

कार्यक्रम में कवि उमाशंकर लोहिया, मुरलीधर झा मधुकर, बच्चा प्रसाद विहवल, जितेंद्र झा आजाद, बालमीकि कुमार द्वारा सेना के सौर्य प्रकाष्ठा एवं सैनिकों के वीर गाथाओं त्याग एवं बलिदान पर अपनी रचनाएं सुनाकर उपस्थित पूर्व सैनिकों का हौसला अफजाई किया और उनको बधाई दी। साथ ही उपस्थित पूर्व सैनिक एवं उनके साथ जुड़े युवा समाजसेवी सदस्यों को अखिल भारतीय साहित्य परिषद सीतामढ़ी के तरफ से प्रशस्ति पत्र एवं तिरंगा अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया।

पूर्व सैनिकों के तरफ से भी संगठन का प्रतीक चिन्ह, पौधा, कलम डायरी भेंट कर कवि एवं साहित्यकार को सम्मानित किया गया।
मौके पर युवा संयोजक अग्नेय कुमार, अध्यक्ष रामबाबू महतो, लक्ष्मी प्रसाद, राम इकबाल भगत, मुकेश यादव, अवनीश, पिन्टू कुमार, प्रभाकर, विकेश पूर्वे, सुनिल कुमार, अजय कुमार, पंकज, महिला विंग के अध्यक्ष सावित्री प्रसाद, सचिव नीरा गुप्ता, सुबेदार जगनारायण सिंह, नागेंद्र साह, इन्द्रदेव प्रसाद, पूर्व सैनिक वीरेंद्र यादव, सोनफी साह,कैलाश प्रसाद, राम नन्दन समेत कई अन्य युवा समाजसेवी मौजूद थे।

- Advertisement -






- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -