पुलवामा घटना के विरोध में उतरा सीवान, एक स्वर में कहा- शहीदों का बलिदान जाया नहीं जाना चाहिए

0
80

सीवान/(आशीष कुमार) : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में भारतीय सैनिकों पर हुए आतंकी हमले के विरोध में शनिवार को पूरा सीवान सड़क पर उतर गया. सीवान में हजारों की संख्या में युवा, बुजुर्ग, किशोर, व्यवसायी, वकील एवं राजनीतिक दलों के नेताओं सड़कों पर उतर गए. हजारों की तादाद में सड़क पर उतरे युवाओं ने हाथों में तिरंगा लेकर बाजार और पूरे शहर का भ्रमण किया एवं पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए.

व्यवसायी स्वत: अपनी दुकानें बंद कर रहे हैं और युवाओं का समर्थन कर रहे हैं. वहीं युवाओं के इस प्रदर्शन को जिला अधिवक्ता संघ ने भी अपना समर्थन दिया है. जिले के अधिवक्ताओं ने पुलवामा घटना के खिलाफ शनिवार के दिन खुद को न्यायिक कार्य से अलग रहने का ऐलान किया है. लोग सड़कों पर उतर हमले में शहीद हुए भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित कर रहे हैं और इंकलाब जिंदाबाद, पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारों से पुरा शहर गुंजायमान हो गया है.

सबसे खास बात यह रही कि इस बन्द का हर नागरिक समर्थन कर रहा है. सबलोग इस आतंकी हमले के खिलाफ जवाबी कार्रवाई की मांग कर रहे थे. वहीं शहर की सड़कों पर प्रशासन द्वारा सुरक्षा व्यवस्था के भी पुख़्ता इंतेजाम किए गए हैं.