पटना : मगध विश्वविद्यालय के छात्रों का फूटा गुस्सा, रिजल्ट रोके जाने के खिलाफ किया विरोध प्रर्दशन

0
82

पटना/शिवम कुमार : पार्ट थर्ड का रिजल्ट रोके जाने के खिलाफ मगध विश्वविद्यालय के छात्रों का गुस्सा फूट पड़ा है. राजधानी पटना की सड़कों पर एक बार फिर से हजारों छात्र राज्य सरकार के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं। छात्र कारगिल चौक होते हुए जेपी गोलंबर तक पंहुचे. जहाँ पुलिस द्वारा उन्हें रोक दिया गया, और 7 छात्रों की प्रतिनिधि राज्यपाल से मिलने गयी है.

वहीं जेपी गोलंबर पर छात्राओं का लगातार प्रदर्शन चल रहा है. जिससे पूरी तरह से यातायात बाधित हो गया है. इससे आमलोगों को परेशानी हो रही है. इस दौरान छात्रों ने विश्वविद्यालय प्रशासन के साथ ही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ नारेबाजी की.

दरअसल मामला यह है कि मगध विश्वविद्यालय द्वारा स्नातक के रिजल्ट को पेंडिंग किए जाने को लेकर 90,000 से अधिक छात्रों का भविष्य अंधकार में है। पढ़ रहे 32 कॉलेजों के 90,000 से अधिक छात्रों का परीक्षा परिणाम घोषित नहीं किया गया है जिसको लेकर पटना उच्च न्यायालय ने राज्य सरकार को 6 हफ्ते के भीतर एफिलिएशन के मुद्दे का समाधान निकालने का आदेश दिया था।

छात्रों का कहना है कि मगध विश्वविद्यालय का सत्र पहले ही एक साल पीछे चल रहा है। बिना परीक्षा परिणाम के छात्र किसी भी प्रतिस्पर्धात्मक परीक्षा में भी नहीं बैठ सकते है। इस हालत में छात्रों का भविष्य अनिश्चित और अंधकारमय है और इस मुद्दे को लेकर छात्र महीनों से परेशान है।